गहलोत-पायलट गुट के बीच खत्म होगा तनाव? मिला ये बड़ा संकेत

बीते कुछ समय से राजस्थान में सियासी हलचल थमने का नाम नहीं ले रही है और इसी वजह से एक बार फिर से राजस्थान की सियासत में भूचाल आ गया है. दरअसल बीते कुछ समय से राजस्थान सरकार में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है और इसी वजह से राजस्थान सरकार की परेशानियाँ बनी हुई है. दरअसल गहलोत गुट और पायलट खेमे के बीच सियासी घमासान मचा हुआ है.

इसी बीच गहलोत सरकार की तरफ से एक बड़ा संकेत दिया गया है. जानकारी के लिए बता दें कि CM अशोक गहलोत के आवास पर हुई बैठक में पायलट गुट को सत्ता-संगठन में जगह देने के संकेत दिए है. इस दौरान CM गहलोत ने कहा कि पुरानी बातों को भूल कर आगे बढ़ो. वही दूसरी तरफ  पार्टी के प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने भी कहा कि मैं सीएम से कहना चाहता हूं कि आप इसी तरह राजस्थान में विकास कार्य करवाते रहें.

इसके अलावा बता दें कि CM गहलोत के बयान के बाद अब अनुमान लगाया जा रहा है कि पायलट गुट और गहलोत गुट के बीच सुलझ हो सकती है. साथ ही राजस्थान कांग्रेस में जारी घमासान भी थम सकता है. हालाँकि मालूम हो कि बैठक में पायलट मौजूद नहीं थे और वो दिल्ली में थे. दरअसल कांग्रेस आलाकमान लगातार पायलट और गहलोत को एक बार फिर से साथ लाने और पायलट को पार्टी में भागीदारी दिलाने की कोशिश कर रहा है. लेकिन अभी तक गहलोत गुट के तेवर पायलट को लेकर सख्त थे लेकिन अब तेवर नरम होते हुए दिखाई दे रहे है.