हिल स्टेशन, पर्यटन स्थलों पर उमड़ती भीड़ को लेकर पीएम मोदी ने जताई चिंता, की ये अपील

देश में कोरोना का कहर अभी तक खत्म नहीं हुआ है. ज्सिकी वजह से सरकार की परेशानी बनी हुई है. बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में हाहाकार मचाया था. जिस वजह से कई लोगो की जान चली गयी और ईस कारण राज्य सरकारों ने अपने अपने राज्यों में लॉक डाउन लगा दिया. हालाँकि अब मामलों में कमी आई है जिसके बाद कुछ राज्य सरकारों ने अन लॉक प्रक्रिया के जरिये लॉक डाउन को खोलते हुए छूट दी है. इसके साथ ही हिल स्टेशन, पर्यटन स्थलों पर जमकर भीड़ देखने को मिल रही है.

जानकारी के लिए बता दें कि हिल स्टेशन, पर्यटन स्थलों पर जमकर उमड़ रही भीड़ को देखते हुए पीएम मोदी ने चिंता जताई है. दरअसल पीएम मोदी ने पूर्वोत्तर के कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोविड-19 को लेकर अहम चर्चा की. इस दौरान पीएम मोदी ने चिंता जताते हुए कहा कि लोगो को सावधानी बरतनी चाहिए. पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से चर्चा करते हुए कहा कि ‘वैक्सीनेशन को लेकर पूर्वोत्तर के राज्य जिस तरह आगे बढ़ रहे हैं, वह बधाई के पात्र हैं. जिन राज्यों में अभी कमी महसूस हो रही है, वहां पर भी इसपर ज़ोर देने की जरूरत है.’

साथ ही साथ उन्होंने कहा कि कई राज्यों में मामले बढे है ऐसे में ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है. इतना ही नहीं पीएम मोदी ने पर्यटकों को चेताते हुए कहा कि हमें कोरोना के हर वैरिएंट पर नज़र रखनी होगी, ये बहरुपिया है और बार-बार अपना रंग बदलता है. ये सही है कि कोरोना की वजह से टूरिज्म, व्यापार-कारोबार बहुत प्रभावित हुआ है. लेकिन आज मैं बहुत जोर देकर कहूंगा कि हिल स्टेशंस में, मार्केट्स में बिना मास्क पहने, भारी भीड़ उमड़ना ठीक नहीं है. जाहिर है कि विशेषज्ञ पहले ही कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दे चुके है.