जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव: बीजेपी को लेकर चुनाव से पहले सपा को सताने लगा डर, कही ये बात

उत्तर प्रदेश में भले ही विधानसभा चुनाव अगले साल होने है लेकिन सियासी हलचल अभी से ही देखने को मिल रही है. दरअसल चुनावों से पहले ही नेताओं और विधायकों का दल बदल का सिलसिला शुरू हो गया है. वही जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव को लेकर भी काफी सियासत देखने को मिली है. भले ही सपा जिला पंचायत सदस्य के चुनाव में अधिक सीटें जीत कर नंबर वन बनी है लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी ने बाजी मार ली है. जिस वजह से सपा को अब चिंता सताने लगी है.

जानकारी के लिए बता दें कि जैसे जैसे जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव की तारीख पास आ रही है वैसे ही अब सपा की चिंता बढ़ती जा रही है. दरअसल चंदौली के सपा के जिलाध्यक्ष ने राज्य निर्वाचन आयोग और बीजेपी पर जमकर निशाना साधते हुए वोटिंग के दिन बड़ी संख्या में लोगों से जिला मुख्यालय पर आने का अनुरोध किया है. दरअसल सपा को डर है कि बीजेपी सत्ता का लाभ उठाकर जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट जीतना चाहती है.

इसके अलावा सपा के जिलाध्यक्ष सत्यनारायण राजभर ने जिला प्रशासन पर भी बीजेपी का एजेंट होने का आरोप लगाया है और राज्य निर्वाचन आयोग को काठ का उल्लू तक कह डाला है. जिस वजह से अब सपा की बौखलाहट और डर दोनों साफ़ तौर पर दिखाई दे रहा है. जाहिर है कि UP में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव को लेकर हलचल मची हुई है.