ममता ने भेजे मोदी को मीठे आम, ये थी वजह

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच में राजनीति सियासत के कारण हमेशा तनाव बना रहता है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने के किसी भी अवसर से चुकती नहीं हैं. अभी हालही में पश्चिम बंगाल विधानसभा में पूरी शक्ति के साथ फिर से मुख्यमंत्री पद की कुर्सी लेने वाली ममता बनर्जी को समझना बहुत ही मुश्किल हैं. जी हाँ हम ये बात ऐसे ही नहीं कह रहें हैं आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का रिश्ता ठीक न होने के बाद भी उन्होंने प्रधानमंत्री जी के लिए मीठा आम भेजीं है. आईये जानते हैं कि आखिर उन्होंने ऐसा क्यों किया है.

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बंगाल के मशहूर हिम सागर, लक्ष्मण भोग और मालदा के आम भेजे हैं. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यह परम्परा दस वर्ष पहले 2011 में शुरू की थी. जब वह पहली बार बंगाल की मुख्यमंत्री बनी थी. इस वजह से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यह परम्परा निभाते हुए प्रधानमंत्री जी को आम भेजा है. आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यह आम सिर्फ प्रधानमंत्री जी को ही नहीं भेजा है इसके अलांवा उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी और राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद कजरीवाल को भी आम भेजी हैं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भेजे हुए आम को लेकर तमाम प्रकार की बातें हो रही है. उन्ही बातों में से कुछ लोग इसे ममता की मैंगो पॉलिटिक्स कह रहें हैं. वहीं मोदी जी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बारे में क्या कहा था उसके बारे में भी थोडा जान लेते हैं. बता दें कि पिछले वर्ष अक्षय कुमार को दिए इंटरव्यू में मोदी जी ने बताया था कि मै और ममता दोनों ही चुनावी प्रतिस्पर्धी हैं. लेकिन फिर भी हमारा रिश्ता काफी अच्छा है. उन्होंने ये भी बताया कि दीदी मेरे लिए खुद कुर्ता चुनती है और हर वर्ष भेजती हैं.