विधानसभा में विधान परिषद बनाने का प्रस्ताव पेश कर सकती हैं ममता बनर्जी, लेकिन यहाँ आ सकती है परेशानी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव संपन्न हो चुके है. लेकिन वहां की राजनीति में छिड़ा भूचाल अभी भी जारी है. दरअसल एक तरफ बंगाल की CM ममता बनर्जी को उत्तराखंड के पूर्व CM तीरथ सिंह रावत के इस्तीफे के बाद से संवैधानिक संकट का डर सता रहा है. वही दूसरी तरफ अब एक और बड़ी खबर सामने आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें कि CM ममता बनर्जी विधानसभा में राज्य में विधान परिषद बनाने का प्रस्ताव पेश कर सकती हैं. दरअसल बता दें कि ममता बनर्जी ने बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान विधान परिषद का गठन करने का वादा किया था और बंगाल में 2 जुलाई से विधानसभा का सत्र शुरू हो गया है.

वही मिली जानकारी के मुताबिक CM ममता बनर्जी विधानसभा में राज्य में विधान परिषद बनाने का प्रस्ताव पेश कर सकती हैं. बता दें कि बंगाल में विधानसभा की 294 सीटें हैं और अगर विधान परिषद का गठन होता है तो उसमें 98 सीटें हो सकती हैं. लेकिन इसमें CM ममता बनर्जी के सामने एक बड़ी समस्या आ सकती है. दरअसल विधान परिषद का गठन करने के लिए विधानसभा में प्रस्ताव पास होने के बाद इसे संसद के दोनों सदनों यानी लोकसभा और राज्यसभा से बहुमत से पास कराना होगा. जिसका मतलब ये है कि विधान परिषद का गठन केंद्र सरकार यानी मोदी सरकार की मंजूरी के बिना नहीं हो सकता है.