टिकैत के गढ़ मुजफ्फरनगर में बीजेपी ने बाजीमारी, मुस्लिम सदस्यों ने मतदान कर विपक्ष का बिगाड़ा खेल

पिछले साल से नए कृषि कानून बिलों को लेकर आन्दोलन पर बैठे किसान नेता राकेश टिकैत के गढ़ मुजफ्फरनगर में बीजेपी ने बाजी मार ली है. दरअसल UP में हुए जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में मुस्लिम जिला पंचायत सदस्य बीजेपी के लिए तुरुफ का इक्का साबित हुए है. दरअसल 10 मुस्लिम सदस्यों ने बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान कर विपक्ष को मैदान छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया. वही इस जीत में मुस्लिम जिला पंचायत सदस्य का अहम योगदान रहा है.

जिसके बाद अब किसान आन्दोलन पर इसका कितना असर पड़ेगा. इसको लेकर कई सवाल खड़े होने शुरू हो गए है. वही जानकारी के लिए बता दें कि मुस्लिम वोट बैंक को बीजेपी का विरोधी माना जाता है. और ये कहा जाता है कि मुस्लिम वही वोट करता है जहाँ पर बीजेपी को हराया जा सके. लेकिन मुजफ्फरनगर में इसका एकदम विपरीत हुआ है. जहां पर जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में मुस्लिम जिला पंचायत सदस्यों का वोट ही बीजेपी प्रत्याशी कि जीत का कारण बन गया है. बता दें कि 43 जिला पंचायत सीटों में 13 सीट जीतने वाली बीजेपी के पक्ष में 30 सदस्यों ने मतदान किया, जिनमें से 10 सदस्य मुस्लिम हैं.

जिसके बाद अब जीत का किसान आन्दोलन पर कितना असर पड़ता है ये तो आने वाल एविधान्सभा चुनावों में साफ़ हो जायेगा ही. हालाँकि इस अवसर पर अमित मालवीय ने एक ट्वीट के जरिये राकेश टिकैत और विपक्ष दोनों पर ही निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि “राकेश टिकैत के गृह जनपद मुजफ्फरनगर में भी बीजेपी का जिला पंचायत अध्यक्ष चुना गया. आंदोलनजीवियों को अब घर चले जाना चाहिए.”