कांग्रेस में बदलेगा सब कुछ, होने जा रहा बड़ा ऐलान

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष बनी सोनिया गाँधी को एक अर्सा बीत गया है. काफी लम्बे समय से कांग्रेस नए अध्यक्ष का चुनाव करने में नाकाम हो रही थी. कांग्रेस के इस रवैये से नेतृत्व की नाकामी ही रेखांकित हो रही थी. फिलहाल इस समय की कहर ये है कि कांग्रेस आने वाले कुछ दिनों में शीर्ष स्तर पर बड़ा बदलाव कर सकती है. हम कांग्रेस के बदलाव का असर संगठन से लेकर राज्यों तक देख सकते हैं.

बता दें कि कांग्रेस पार्टी के अंदर जिस तरह से तमाम प्रकार की विरोधाभासी आवाजें उठने लगी हैं और दुसरे सहयोगी दलों के दबाव के बीच पार्टी स्वयं को सक्रीय मूड में दिखाना चाहती है. मिले हुए जानकारी के मुताबिक आप को बता दें कि कांग्रेस अपनी पार्टी में बदलाव के लिए तीन नए फार्मूले को तय की है. तय किये गये इस फोर्मुले के अनुसार पार्टी को गैर गाँधी परिवार से अध्यक्ष पद मिल सकता है.

इसी के साथ ये भी बता दें कि इस प्रकार की रणनीति इस वजह से बनाई जा रही है कि राहुल गांधी अभी भी परिवार से अलग किसी को भी अध्यक्ष बनाने की बात पर कायम हैं. ऐसे में अगर यह दबाव बना रहा तो इसके लिए पार्टी स्वयं को तैयार कर रही है. इतना ही नहीं राहुल गाँधी खुद लोकसभा में विपक्ष के नेता बनने के लिए तैयार हो सकते हैं. वहीं दुसरे फोर्मुले के अंतर्गत आगामी वर्ष 2024 तक सोनिया गांधी को ही पूर्णकालिक अध्यक्ष बनने पर पार्टी निवेदन कर सकती है. अब आपको कांग्रेस के तीसरी फोर्मुले की बात बताते हैं. इस फार्मूले के तहत राहुल गांधी को अध्यक्ष बनने के लिए पार्टी दबाव बना सकती है. अब देखना ये है कि कांग्रेस पार्टी कौन सा फ़ॉर्मूला अपनाती है. ये तो समय ही बतायेगा.