जज्बे को सलाम! इस कुली ने रेलवे के फ्री वाई फाई से पास किया सिविल सर्विसेज रिटेन एग्‍जाम

जहां लोग सिविल सर्विसेज की तैयारी करने के लिए ढेर सारी किताबों के बोझ में दबे रहते हैं लेकिन केरल के  श्रीनाथ ने किताब नहीं बल्कि यात्रियों के सामान का बोझ उठाकर सिविल सर्विसेज की पढ़ाई की है.वैसे तो इस बात को जानने के बाद हर किसी यकीन नहीं हुआ होगा लेकिन ये बिल्कुल सच बात है.दरअसल श्रीनाथ एर्नाकुलम जंक्शन पर 5 सालों से यात्रियों का सामान उठाकर अजीविका के लिए कुली का काम कर रहे हैं.

सबसे खास बात ये है कि इन्होंने रेलवे स्टेशन पर फ्री वाईफाई की मदद से केरल एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस का रिटेन एग्जाम पास किया है, इनकी कहानी सुन आपको हैरानी होगी कि श्रीनाथ ने अपने एक इंटरवीयू में बताया था कि जब वे यात्रियों का सामान इधर से उधर ले जाते थे तब उनका ध्यान कानों में लगाएं इयरफोन पर होता है जिसपर टीचर उन्हें लेसन सुना रही होती थी.

वे  डिजिटल कोर्सवर्क और ट्यूटोरियल को अपने स्मार्टफोन पर सुनकर वो उन्हें लर्न करते रहते हैं,इसके अलावा जब भी उन्हें फुर्सत मिलती थी तो वे अपने लेसन को फिर से दोहराते थे.श्रीनाथ के पास सिविल की परिक्षा पास करने के लिए किताबों व कोचिंग के लिए पैसे नहीं थे इसीलिए फ्री इंटरनेट से पढ़ाई की है.

खबर के अनुसार यदि इन्होंने केरल पब्लिक सर्विस कमीशन का इंटरव्यू एग्जाम पास कर लिया तो ये भूमि राजस्व विभाग में सहायक के पद पर तैनात हो जाएंगे. इसके साथ श्रीनाथ ने ट्रैकवेमैन, केबिनमैन,  रेलवे जॉब्स, पॉइंटमैन, गैंगमैन ,लीवरमैन जैसी परीक्षाओं के लिए भी आवेदन कर चुके हैं.इन सभी परिक्षाओं की तैयारी भी वे रेलवे के वाईफाई के उपयोग से ही करेंगे. फिलहाल श्रीनाथ ने कहा है कि वे अपना घर चलाने के लिए पढ़ाई के साथ-साथ कुली का काम भी जारी रखेंगे.