अयोध्या के विकास मॉडल में होगा बदलाव,जानें कैसी दिखेगी अब राम की नगरी

अयोध्या के विकास मॉडल में अब आपको बदलाव देखने को मिल सकता है. दरअसल पीएम मोदी ने सुझाव दिया है कि अब अयोध्या नगरी मिनी भारत की तरह दिखाई देगी.बताया जा रहा है कि अयोध्या में चारों ओर अध्यात्मिकता का समावेश दिखाई देगा. यहां के चौराहों का विकास के साथ नामकरण पर भी ध्यान दिया जाएगा.चार से छह महीने के भीतर पब्लिक यूटिलिटी की व्यवस्था की जाएगी.

 छह महिने के अंदर विश्राम स्थल और शौचालय बनाए जाएंगे. जल्द ही आने वाले समय में यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए काफी सुविधाएं मिलने वाली हैं.पीएम ने कहा कि सड़कों के किनारे छोटे-छोटे होटल और धर्मशाला बनाए जाएंगे. सभी श्रद्धालु के हिसाब से हर तरह की सुविधा दी जाएगी.

पीएम ने डिजिटल टूरिस्ट गाइडों की बात भी सीएम योगी के सामने रखी है इससे वहां आने जाने वाले पर्यटकों को जानकारी मिल सके. पीएम ने अयोध्या के बारे में सुझाव देते हुए ये भी कहा है कि अयोध्या में 21 वीं सदी की आधुनिकता भी दिखनी चाहिए इसके साथ ही पीएम ने कहा है कि 2047 में अयोध्या कैसी दिखाई देगी इसके बारे में भी दिखाया जाए.और पीएम ने कहा है कि 108 कुंड बनाने के लिए देश में प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाना चाहिए.जो की देशभर के आर्किटेक्ट आकर कुंड को बेहतर डिजायन दे सके और उन्हें फिर सम्मानित किया जाए.