योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला, जीत लिया हिंदुओं का दिल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देश में अपनी कार्यकुशलता के वजह से सर्वोच्च स्थान और पहचान बना लिए हैं. उनके कार्य करने की योजना इतनी ठोस होती है कि वो किसी भी बड़े से बड़े कार्य को सरलता से कर लेते हैं. इसी तरह से आप को बता दें कि कोरोना के इस भयावह समय में होने वाली कांवड़ यात्रा के लिए मुख्यमंत्री योगी जी ने योजना बद्ध तरीके से तैयारियों को प्रारम्भ कर दी है.

उन्होंने बिहार और उत्तर प्रदेश में जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं के लिए दिए हैं निर्देश. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि पड़ोसी राज्यों से संवाद स्थापित कर कांवड़ यात्रा को पूर्ण किया जाये. कोरोना के कहर को ध्यान में रखते हुए कांवड़ यात्रा का सुचारू रूप से संचालन किया जाये. आपको बता दें कि दिनांक 25 जुलाई से शिवभक्तों की कांवड़ यात्रा शुरू होगी.

वहीं उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार की अध्यक्षता में दिन मंगलवार को देहरादून में कांवड़ यात्रा को लेकर 8 राज्यों के पुलिस अधिकारीयों के साथ बैठक हुई है. इसी के साथ ही डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि वर्ष 2020 की तरह इस वर्ष भी कोरोना के चलते उत्तराखंड सरकार ने कांवड़ यात्रा को प्रतिबंधित किया है. इससे पहले कांवड़ यात्रा को लेकर खबर आई थी कि उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात की है. वह जल्द ही हरियाणा के मुख्यमंत्री से बात करने के बाद कांवड़ यात्रा प्रारम्भ करने पर फैसला कर सकते हैं.