भाजपा नेताओं से जायज और नाजायज बच्चों की संख्या पूछने वाले सलमान खुर्शीद को सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिया मुंहतोड़ जवाब

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने नई जनसंख्या नीति जारी कर दी और जनसँख्या नियंत्रण क़ानून की तैयारियां शुरू कर दी. जिसके बाद विपक्षी खेमे में बेचैनी और बौखलाहट महसूस की जा रही है. समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के अल्पसंख्यक नेताओं की तरफ से उलूल जुलूल बयान दिए जा रहे हैं. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने इसी बौखलाहट में भाजपा और RSS नेताओं को लेकर विवादित बयान दे दिया जिसपर पलटवार करते हुए खुद सीएम योगी आदित्यनाथ में मुंहतोड़ जवाब दिया है.

पहले आपको बताते हैं की सलमान खुर्शीद ने क्या कहा था. सलमान खुर्शीद ने कहा था कि “यूपी में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करने से पहले योगी सरकार के मंत्रियों को ये बताना चाहिए कि उनके कितने बच्चे हैं. इसके साथ ही उन्हें ये भी बताना चाहिए कि कितने बच्चे जायज हैं और कितने बच्चे नाजायज हैं.’ अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस पर पलटवार करते ही कहा है कि “जाकी रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखी तिन तैसी.” उन्होंने कहा, ‘जिनके भाव और जिनके कृत्य जैसे रहे हैं, वो वैसी ही बात करते हैं. जो इस धरती पर आया है, वो सब जायज है और हमारे लिए कुछ भी नाजायज नहीं है.’ सीएम ने आगे कहा, ‘ये कांग्रेस की सोच है और कांग्रेस ने इसी के अनुसार काम किया है. मुझे लगता है कि पूर्व कानून मंत्री को ही इसके बारे में सोचना चाहिए कि वो मानवता का अपमान कर रहे हैं या नहीं. क्या पूर्व कानून मंत्री के रूप में उन्हें ऐसे शब्द का प्रयोग करने में कोई संकोच आया या नहीं.

आपको बता दें कि राज्य विधि आयोग ने यूपी जनसंख्या (नियंत्रण, स्थिरीकरण व कल्याण) विधेयक-2021 का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है. अब 2 से अधिक बच्चे रखने वालों को कई सुविधाओं से वंचित रहना पड़ सकता है. इस ड्राफ्ट में 2 से अधिक बच्चे रखने वालों को सरकारी योजनाओं का लाभ न दिए जाने के अलावा स्थानीय निकायों में रोक लगाने का भी प्रस्ताव है. विधि आयोग ने ड्राफ्ट को अपनी वेबसाइट https://ift.tt/3AHF8nT पर अपलोड कर दिया है. 19 जुलाई तक जनता से राय मांगी गई है.