दिल्ली के बाद अब उत्तराखंड में अरविन्द केजरीवाल के कई सियासी वादें, किये ये बड़े ऐलान

उत्तराखंड में अगले साल विधानसभा चुनाव होने है. जिसके लिए अभी से ही सभी दल अपनी अपनी तैयारियों में लगे हुए है. जानकारी के लिए बता दें कि उत्तराखंड में अगले साल होने वाले चुनावों को देखते हुए दिल्ली के CM और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविन्द केजरीवाल पंजाब के बाद अब उत्तराखंड के दौरे पर है.

जानकारी के लिए बता दें कि देहरादून में उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि “70 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब कोई सत्तारूढ़ राजनीतिक पार्टी खुद ही कहती है कि हमारा सीएम बेकार है. वैसे तो विपक्ष कहता है लेकिन उत्तराखंड में सत्तारूढ़ पार्टी ही अपने सीएम को बेकार कहती है. वहीं उत्तराखंड के विपक्ष के पास कोई नेता ही नहीं है. क्या इन दोनों पार्टियों में से किसी को उत्तराखंड के जनता की चिंता है. उत्तराखंड के जनता के बारे में कौन सोचेगा, यहां के विकास के बारे में कौन सोचेगा. दोनों पार्टियों को ही कोई चिंता नहीं है. दोनों ही पार्टियां सिर्फ कुर्सी की लड़ाई लड़ रही हैं.”

इसके अलावा CM केजरीवाल ने कहा कि ‘उत्तराखंड खुद बिजली बनाता है. उत्तराखंड से दूसरे राज्यों को बिजली भेजी जाती है. फिर भी उत्तराखंड के निवासियों को बिजली इतनी महंगी क्यों मिलती है. क्या कभी उत्तराखंड में किसी सरकार ने यहां के लोगों को फ्री या सस्ती बिजली देने के बारे में सोचा. नहीं. क्योंकि उनके पास टाइम ही नहीं है. वह सिर्फ सत्ता की लड़ाई में लगे हुए हैं.’ साथ ही साथ CM केजरीवाल ने कहा कि ‘दिल्ली की तरह उत्तराखंड में हमारी सरकार बनेगी तो 300 यूनिट तक बिजली हर परिवार को मुफ्त दी जाएगी. पुराने बिल माफ किए जाएंगे. कोई पावर कट नहीं लगेगा. 24 घंटे बिजली आएगी. उत्तराखंड के किसानों को मुफ्त बिजली दी जाएगी. दिल्ली में 200 यूनिट बिजली हर परिवार को मुफ्त मिलती है.’ जाहिर है कि CM केजरीवाल ने दिल्ली के बाद पंजाब और उत्तराखंड में भी फ्री बिजली पानी का ब्रह्मास्त्र अपना चलाया है जिसका कितना असर उत्तराखंड कि जनता पर होता है इसका पता चुनावों के बाद ही पता चलेगा.