CM अमरिंदर और सिद्धू के बीच इस वजह से अभी भी टकराव जारी

भले ही कांग्रेस हाई कमान ने नवजोत सिंह सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बना कर पंजाब कांग्रेस की कमान उनके हाथों में सौप दी है. साथ ही ये भी मान लिया है लम्बे वक्त से जारी घमासान खत्म हो गया है. लेकिन बता दें कि अभी भी कैप्टन और सिद्धू के बीच कलह खत्म नहीं हुआ है और इसी वजह से दोनों के बीच बनी दरार भरने की जगह अब और बढ़ गयी है.

दरअसल प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद जहाँ एक तरफ सिद्धू के तेवर में कोई नरमी नहीं आई है. वही दूसरी तरफ कैप्टन की तरफ से भी विरोध सीधे तौर पर देखने को मिल रहा है. जानकारी के लिए बता दें कि CM अमरिंदर ने हरीश रावत से मुलाकात के दौरान सिद्धू द्वारा माफ़ी मांगे जाने की शर्त सामने रखी थी. लेकिन सिद्धू ने अभी तक सार्वजानिक तौर पर CM से माफ़ी नहीं मांगी है बल्कि सिद्धू कैंप ने CM पर निशाना साधते हुए कहा कि  माफी तो उन्हें मांगनी चाहिए, क्योंकि उन्होंने जनता के वादे पूरे नहीं किए हैं.

वही इंडिया टुडे से मिली खबर के मुताबिक सिद्धू के करीबी मने जाने वाले और जालंधर कैंट से विधायक परगट सिंह ने कहा था कि ‘कैप्टन अमरिंदर सिंह माफी की बात कर रहे हैं. यदि किसी को माफी मांगनी ही चाहिए तो वह खुद सीएम हैं. जो जनता से किए गए वादों को पूरा करने में असफल रहे हैं.’