सैकड़ों भारतीय आईटी पेशेवरों के लिए अच्छी खबर, H1B वीजा आवेदकों के लिए दूसरी लॉटरी आयोजित करेगा अमेरिका

एच1बी वीजा 

एच1बी वीजा 

अमेरिकी नागरिकता एवं आव्राजन सेवा (US Citizenship and Immigration Service) ने कहा है कि अमेरिका सफल एच1बी वीजा आवेदकों (H1B visa applicants) के लिए दूसरी लॉटरी (Second Lottery) का आयोजन करेगा। इस फैसले से सैकड़ों भारतीय आईटी पेशेवरों (Indian IT Professionals) को दूसरा मौका मिलेगा, जो पहले चयन में एच1बी वीजा (H-1B Visa) नहीं पा सके थे। अमेरिका के इस फैसले से खासकर भारत के आईटी सेक्टर (IT Sector) के लिए राहत भरी खबर है। 

इस साल की शुरुआत में दी थी पहली ड्रॉ को मंजूरी

अमेरिकी नागरिकता एवं आव्राजन सेवा (USCIS) ने कहा कि इस साल की शुरुआत में आयोजित H-1B Visa के लिए कम्प्यूटरीकृत ड्रॉ (Computerised Draw) के दौरान उन्हें कांग्रेस से मंजूरी प्राप्त H-1B Visa की पर्याप्त संख्या नहीं मिली थी। इसलिए दूसरे ड्रॉ का फैसला किया गया। एच1बी वीजा एक गैर-अप्रवासी वीजा (non-immigrant visa) है। जिसकी मदद से अमेरिकी कंपनियां सैद्धांतिक या तकनीकी विशेषज्ञता की जरूरत वाले विशिष्ट पेशों में विदेशी कर्मियों को नौकरियों पर रखती हैं।

IT कंपनियां हर साल इन वीजा पर करती हैं निर्भर

प्रौद्योगिकी कंपनियां हर साल भारत (India) और चीन (China) जैसे देशों से हजारों लोगों को नियुक्त करने के लिए इस वीजा पर निर्भर करती है। USCIS ने एक बयान में कहा कि हमने हाल में तय किया कि हमें वित्त वर्ष 2022 के संख्यात्मक आवंटन तक पहुंचने के लिए अतिरिक्त पंजीकरण (Registration) को चयनित करने की जरूरत है। नए ड्रॉ के लिए आवेदन दो अगस्त से तीन नवंबर तक किए जा सकेंगे।