Public Provident Fund : पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में हर महीने 2 हजार रुपये जमा करने पर मिलेगा लाखों का रिटर्न, बहुत काम की है ये पॉलिसी

पोस्ट ऑफिस स्कीम

पोस्ट ऑफिस स्कीम

नई दिल्ली। आज के समय में हर कोई अपने भविष्य को लेकर चिंता में है। जैसे हालात देश में कोरोना वायरस महामारी के बाद से पैदा हुए हैं उससे लगता है कि अर्थव्यवस्था के साथ साथ लोगों की अभी और भी ज्यादा जेब खाली होने वाली है। वहीं ऐसे समय में (Insurance Policy) बीमा पॉलिसीस की डिमांड बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है। चाहे एलाआईसी हो या पोस्ट ऑफिस स्कीम्स इन सभी बीमा कंपनियों के ग्राहक बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। आज हम आपको पोस्ट ऑफिस की एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके बहुत काम आने वाली है। हम बात कर रहे हैं पोस्ट ऑफिस में चलाई जाने वाली खास स्कीम पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund) यानी कि PPF के बारे में। इस अकाउंट को अपने किसी भी नजदीकी डाकघर में खुलवा सकते हैं। देश का कोई भी नागरिक यह खाता खुलवा सकता है।

नहीं होगा कोई फ्रॉड

यह स्कीम पूरी तरह से सरकार से मान्यता प्राप्त है जिसमें किसी तरह के धोखाधड़ी की कोई गुंजाइश नहीं है। 1 अप्रैल 2020 से सरकार इस खाते पर 7.10 फीसदी का ब्याज दे रही है। State Bank या देश के अन्य बैंकों में चलाए जा रहे एफडी खाते (FD Account) या आरडी खाते (RD Account) से भी ज्यादा ब्याज पीपीएफ PPF पर मिलता है।

कितने रुपये से शुरू कर सकते हैं खाता

मान लीजिए किसी व्यक्ति ने हर महीने PPF खाते में 1 हजार रुपये जमा कराया है। 15 साल में 1 हजार रुपये की जमा राशि 1,80,000 रुपये हो जाएगी। इस पर आपको 1,35,567 रुपये का Interest मिलेगा। दोनों अमाउंट को जोड़ दें 15 साल बाद मैच्योरिटी पर 3,15,567 रुपये होगा। अगर कोई व्यक्ति हर महीने 2 हजार या 24 हजार रुपये सालाना जमा करता है तो उसकी कुल जमा राशि 3,36,000 रुपये होगी। इस पर ब्याज के रूप में 2,71,135 रुपये मिलेंगे। कुल पैसे को जोड़ दें तो जमाकर्ता के हाथ में 6,31,135 रुपये मिलेंगे।