RBI ने Mastercard पर लगाया प्रतिबंध, नए क्रेडिट, डेबिट और प्रीपेड कार्ड बनाने को लेकर पाबंदी

आरबीआई प्रतिबंध

आरबीआई प्रतिबंध

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने मास्टरकार्ड एशिया पैसेफिक (Mastercard Asia Pacific) पर 22 जुलाई से नए क्रेडिट (Credit), डेबिट (Debit) और प्रीपेड कार्ड (Prepaid Card) ग्राहक बनाने को लेकर पाबंदी (Ban) लगा दी। कंपनी द्वारा आंकड़ों में रखरखाव नियमों का अनुपालन नहीं करने को लेकर यह कदम उठाया गया है।

क्यों लगाया गया प्रतिबंध

बता दें कि कंपनी पर काफी समय से भुगतान प्रणाली आंकड़ों के रखरखाव को लेकर शिकायतें मिल रही थीं जिसको लेकर रिजर्व बैंक को ये पाबंदी लगाने का फैसला लिया गया है। बता दें कि इससे पहले, केंद्रीय बैंक ने अमेरिकन एक्सप्रेस बैंकिंग कॉर्प (American Express Banking Corp) और डाइनर्स क्लब इंटरनेशनल लिमिटेड (Diners Club International Limited) को आंकड़ा रखे जाने से जुड़े मानदंडों का उल्लंघन करने के लिए अपने कार्ड नेटवर्क पर नए घरेलू ग्राहकों को जोड़ने से प्रतिबंधित कर दिया था। Mastercard ने अपने बयान में कहा कि वह RBI के इस रुख से निराश है।

मौजूदा ग्राहकों पर नहीं पड़ेगा असर

केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि RBI ने आज मास्टर कार्ड एशिया पैसेफिंग पीटीई लि. (Mastercard Asia Pacific PTE ltd) पर 22 जुलाई, 2021 से Debit, Credit या Prepaid Card के नए घरेलू ग्राहक बनाने को लेकर प्रतिबंध लगा दिया। रिजर्व बैंक ने हालांकि कहा कि इस कदम से मास्टरकार्ड के मौजूदा ग्राहकों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। 22 जुलाई से पहले पहले जो भी मास्टरकार्ड यूजर्स हैं उन्हें इस प्रतिबंध से घबराने की जरूरत नहीं हैं।