जल्द आने वाली है भारत में निर्मित Sputnik-V वैैक्सीन, जानें कैसे लगाया जाएगा ये टीका

स्पुतनिक वी वैक्सीन

स्पुतनिक वी वैक्सीन

हैदराबाद। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप थम गया है। इस घातक बीमारी के प्रभाव को कम करने में वैक्सीन ने एक अहम भूमिका निभाई है। कोरोना वैक्सीन अभियान के तहत देशभर मुफ्त में टीके लगवाए जा रहे हैं। ऐसे में एक और अच्छी खबर सामने आ रही है। भारत में रूस की स्पूतनिक वी (Sputnik V) वैक्सीन का उत्पादन कर रही डॉ रेड्डी लेबोरेटरीज लि. (Dr Reddy's Laboratories Limited) को उम्मीद है कि सितंबर-अक्टूबर के दौरान यह वैक्सीन मिलना शुरू हो जाएगी। कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

Dr Reddy's के प्रमुख बाजारों के मुख्‍य कार्यपालक अधिकारी एमवी रमन (MV Raman) ने कहा कि रूस में Covid-19 के नए मामलों में तेजी से Sputnik V की खुराक के भारत आने में देरी हो रही है और अगस्त के अंत तक स्थिति ठीक हो सकती है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि स्थानीय निर्माता वर्तमान में प्रौद्योगिकी को अपनाने और उत्पादन को बढ़ाने की प्रक्रिया में हैं। हमें उम्मीद है कि सितंबर-अक्टूबर के दौरान भारत में निर्मित Sputnik V Vaccine उपलब्ध होगी।

Dr Reddy's ने दरअसल भारत में स्पुतनिक वी के उत्पादन के लिए रूस के प्रत्यक्ष निवेश कोष के साथ मई,2021 में करार किया था। रूस के प्रत्यक्ष निवेश कोष ने स्पूतनिक वी वैक्सीन के उत्पादन के लिए छह भारतीय दवा निर्माता कंपनियों के साथ समझौता किया हैं। इस करार के तहत डा रेड्डीज भारत में इस वैक्सीन के पहले 12.5 करोड़ खुराक बेचेगी। रमन ने बताया कि स्पूतनिक वी वैक्सीन को देशभर के 80 शहरों में टीकाकरण के लिए उतारा गया था और अभी तक 2.5 लाख लोगों को इसकी खुराक लगाई जा चुकी हैं।