Sunday Special : टेक्नोलॉजी में बदलाव के साथ-साथ फ्रॉड करने के बदल रहे तरीके, ऑनलाइन ठगी से बचना है तो अपनाएं ये ट्रिक्स

 ऑनलाइन फ्रॉड

 ऑनलाइन फ्रॉड

नई दिल्ली। आज के समय में टेक्नोलॉजी (Technology) बहुत एडवांस होती जा रही है। लगभग हर चीज में तकनीकी मामलों में वैज्ञानिक बहुत आगे निकलते जा रहे हैं। इन बढ़ती तकनीक ने लोगों के तौर तरीकों में बदलाव तो किया ही है साथ ही कीमती समय की वैल्यू भी बताई है, लेकिन अगर इसके हजार फायदे हैं तो कई नुकसान भी हैं। आज सरकारी या प्राइवेट दफ्तरों में धक्के खाने के बजाए लोग घर बैठे ऑनलाइन ही अपना काम निपटा रहे हैं। बैंकों से संबंधित कार्य भी अब ज्यादातर काम ऑनलाइन ही हो रहे हैं। अगर आपके पास कैश नहीं है तो आपके सामने कई ऐसी ऐप्स हैं जिससे आप कुछ ही मिनटों में अपना पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। लेकिन ऑनलाइन सिस्टम के बढ़ते क्रेज के साथ ही ठग भी खूब सक्रिय होते दिख रहे हैं। आप लगभग रोजाना ही ठगी का कोई ना कोई एक मामला तो जरूर ही अखबार में या फिर न्यूज चैनल पर देख ही लेते होंगे। पिछले कुछ सालों में बीमा (Insurance), इनकम टैक्स (Income Tax), क्यूआर कोड बेस्ड पेमेंट (QR Code Based Payment), केवाईसी अपडेट (KYC Update) और सिम अपग्रेडेशन (Sim Upgradation) के नाम पर ठगी के मामलों में बढ़ोतरी होती जा रही है। ऐसे मामलों में ठग आपका अकाउंट (Account) खाली कर सकते हैं। ऐेसे में हर किसी को सावधान रहने की जरूरत है और कुछ ट्रिक्स को फॉलो कर इससे बचा जा सकता है।

KYC Update करने के नाम पर फ्रॉड

आजकल केवाईसी अपडेट (KYC Update) और सिम अपग्रेड (Sim Upgrade) के नाम पर ठगी (Fraud) करने वाले आपको कॉल करके केवाईसी अमान्य होने की बात कहता है। वह इसको Online Active करने का झांसा देता है। फिर आपसे कोई App Download करवाकर इसके जरिए आपका कुछ अमाउंट ट्रांसफर (Amount Transfer) करवाता है। आपके ऐसा करने पर पासवर्ड सहित दूसरी डिटेल उसके पास चली जाती हैं। डिटेल मिलने के बाद वह ठगी को अंजाम दे देते हैं।

डिस्काउंट का लालच देकर हो रही ठगी

Cyber Fraud करने वाले कई बार ब्रांडेड ई-कॉमर्स वेबसाइट्स (E-commerce Websites) के फर्जी क्लोन तैयार करके प्रोडक्ट पर भारी डिस्काउंट दिखाते हैं। भारी डिस्काउंट देखकर आप ऑर्डर करके पेमेंट करते हैं। ऐसी स्थिति में आपके ऑर्डर की डिलीवरी नहीं होती है और कुछ समय बाद आपको वह लिंक भी गायब मिलता है।

ऑनलाइन ठगी से कैसे बचा जाए

  • यदि आपको किसी भी ई-मेल (Email), लिंक (link), फोन कॉल (Phone Call) या फिर Website पर किसी भी तरह का संदेह होता है तो उससे दूर रहें।
  • ऑनलाइन ठग अक्सर फर्जी पॉपअप भेजकर भी फंसाते हैं, इससे सावधान रहें।
  • अकसर देखा जाता है कि ठग कई बार विभिन्न स्कीम के नाम पर यूपीआई लिंक (UPI link) भेजते हैं। आपको ऐसे लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए।
  • आप यदि QR code को स्कैन करके कोई Payment कर रहे हैं तो पहले यह अच्छे से पता कर लें कि वह सही हो।
  • Social Media पर कई फ्रेंड रिक्वेस्ट (Friend Request) आती हैं। ऐसे में आप जिस शख्स को नहीं जानते हों, उसकी रिक्वेस्ट सोच-समझ कर ही एक्सेप्ट करें।