जब अंडरवर्ल्ड ने गुलशन कुमार से मांगे थे 10 करोड़, दिया था ऐसा करारा जवाब

गुलशन कुमार को कौन नहीं जानता होगा,उन्होंने जीवन में जो कुछ भी किया है उसकी प्रसंन्नता लोग आजतक करते हैं. गुलशन कुमार के बारे में कहा जाता है कि कभी ये जूस बेचकर अपने परिवार को चलाते थे लेकिन उसके बाद टी सीरीज जैसी फेमस कंपनी बना देना ये वाकई काबिले तारीफ है, वे अपनी टी-सीरीज कंपनी से एक बहुत बड़ी हस्ती बन गए थे , लेकिन कहा जाता है कि जितना बड़ा आदमी होता है उसके सामने मुसीबते भी उतनी ही बड़ी सामने आती हैं.

इस तरह गुलशन कुमार के सामने भी एक बड़ी परेशानी सामने आई थी.गुलशन कुमार के सामने परेशानी अंडरवर्ल्ड ने खड़ी की थी उस दौरान मुंबई में अंडरवर्ल्ड का काफी दबदबा था. बात उस दिन की है जब अंडरवर्ल्ड ने गुलशन कुमार से फोन करके 10 करोड़ रूपए मांगे थे लेकिन गुलशन कुमार ने कहा था कि एक डॉन को 10 करोड़ पैसे देना से अच्छा तो वो माता वैष्णो देवी के धाम में भंडारा करवा दें. जो की आज भी वैष्णो देवी में चलता है.

गुलशन कुमार की सबसे अच्छी बात थी की वो अंडरवर्ल्ड के सामने कभी झुके नहीं लेकिन दुख की बात तो ये थी कि वो अपने प्राण नहीं बचा पाए. कहा जाता है कि गुलशन कुमार जब तक जिए वो हमेशा शान से जिए वे कभी किसी के सामने झुके नहीं थे.दरअसल इन सब बातों को जिक्र खोजी पत्रकार हुसैन जैदी ने अपने बुक My Name is Abu Salem में भी किया है.

रिपोर्ट के अनुसार 12 अगस्त 1997 को अबु सलेम के शूटर राजा ने मुंबई के जीतेश्वर महादेव मंदिर के बाहर दिन-दहाड़े हत्या कर दी थी, बताया जाता है कि 10 से ज्यादा गुलशन कुमार के शरीर पर गोलियां चलाई गई थी,जहां उनका मौके पर ही निधन हो गया था. गुलशन कुमार की मौत के बाद अबु सलेम मुंबई छोड़कर भाग निकला था बाद उसे गिरफ्तार किया था.