20 सालों से फ्री में दी सेना भर्ती के लिए ट्रेंनिंग, 42 युवाओं का हो चुका चयन

युवाओं के अंदर सेना भर्ती को लेकर एक अलग ही जोश होता है, फिर चाहे युवा ग्रामीण क्षेत्र के हो या शहरी क्षेत्र के. कमी ये रह जाती है कि कुछ ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को सेना के लिए पर्याप्त ट्रेनिंग नहीं मिल पाती है लेकिन वो कहते हैं ना कि यदि कुछ पाना हो तो सामने तमाम मुश्किलें आएंगी लेकिन मंजिल को हासिल करने का रास्ता भी दिखाई देगा. कुछ ऐसा ही किया है छत्तीसगढ़ के निवासी घनश्याम ध्रुव ने. इन्होंने तमाम परेशानियों को बाजू रख लोगों को फ्री में ट्रेनिंग देनी शुरू की है.

मिली जानकारी के मुताबिक, छत्तीसगढ़ के धमतरी के एक व्यायाम शिक्षक घनश्याम ध्रुव सेना में जाने वाले लड़के और लड़कियों को फ्री में ट्रेनिंग देते हैं. बता दें कि, मगरलोड़ विकासखंड के तमाम युवा सेना में भर्ती होना चाहते हैं लेकिन कुछ ना कुछ दिक्कतों के कारण ऐसा करने में असमर्थ है. इस कारण से ही घनश्याम ध्रुव सेना में जाने वाले युवाओं को फ्री में ट्रेनिंग दे रहे हैं.

आपको बता दें कि, व्यायाम शिक्षक घनश्याम ध्रुव युवाओं को पिछले 20 सालों से बीएसएफ, नेवी, आर्मी, सीआरपीएफ, वायु सेना और पुलिस की फिजिकल परीक्षा की ट्रेनिंग दे रहे हैं. वहीं, युवाओं के अंदर भी ट्रेनिंग के लिए अलग जोश देखने को मिला है. सभी युवा तड़के सुबह 5 बजे कुंडेल गांव की विद्युत सब स्टेशन में ट्रेनिंग के लिए इकट्ठे हो जाते हैं.

जानकारी के मुताबिक, ट्रेनिंग में पहले सिर्फ लड़के ही आते थे जिसके बाद लड़कियों का भी इंटरेस्ट बढ़ा और लड़कियां भी ट्रेनिंग का हिस्सा बन गई. वहीं, लड़कियों का कहना है कि यहां पर बारीकी से हर एक चीज सिखाई जाती है.

गौरतलब है कि युवाओं की मेहनत और शिक्षक घनश्याम ध्रुव की जबरदस्त ट्रेनिंग से आसपास के 42 युवा सेना में चयनित हो चुके हैं. अपनी सफलता पर शिक्षक घनश्याम ध्रुव कहते हैं कि, उन्हें बहुत खुशी होती है कि यहां का नौजवान देश के अलग-अलग जगहों पर जाकर अपनी सेवा दे रहा है. घनश्याम ध्रुव का कहना है कि, वो आगे भी इसी तरह से युवाओं को ट्रेनिंग देते रहेंगे ताकि देश को उनके जिले से बेहतर सैनिक मिल सकें.