Birthday Special: पहली बार नर्सरी क्लास में हुई थी मनीष पॉल की पत्नी संयुक्ता से मुलाकात, कुछ ऐसी है दोनों की प्रेम कहानी

टीवी एक्टर और होस्ट मनीष पॉल (Maniesh Paul) आज अपना 40वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहें हैं। उनका जन्म 3 अगस्त 1981 को दिल्ली में हुआ था। वह टीवी की दुनिया के जानेमानें होस्ट हैं। रेडियो जॉकी और वीजे के रूप में शुरुआत करने वालें मनीष पॉल ने स्टैंड-अप कॉमेडी और होस्टिंग करने से पहले एक्टिंग की ओर रुख किया था। प्रोफेशनल लाइफ के अलावा उनकी पर्सनल लाइफ भी काफी इंटरेस्टिंग रही हैं। मनीष की शादी उनकी बचपन से साथी रही संयुक्ता (Sanyukta) के साथ हुई है। उनकी लव स्टोरी काफी इंटरेस्टिंग है। तो आज उनके बर्थडे पर हम आपको उनकी लव स्टोरी के बारें में बताने जा रहें हैं।


मनीष और संयुक्ता की पहली मुलाकात

अपनी लव स्टोरी के बारें में खुलासा करते हुए मनीष ने एक मीडिया से बातचीत की है। दोनों तब मिले जब वे नर्सरी में थे, फिर दोस्त बन गए, उसके बाद स्कूल में ही प्यार हो गया और आज, एक बेटी और एक बेटे के हैप्पी पेरेंट्स हैं। अपनी इस बातचीत में उन्होंने बताया कि अपनी सभी उपलब्धियों का श्रेय वह अपने जीवनसाथी को देते हैं। इस बातचीत में मनीष ने स्कूल में फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता से संयुक्ता के साथ अपनी पहली मेमोरी को याद किया। जब वह दोनों अपनी तीसरी कक्षा में थे, संयुक्ता मदर टेरेसा के गेटअप में थी और मनीष ने राज कपूर का गेटअप लिया हुआ था। उन्होंने कहा कि हालांकि वे एक-दूसरे को नर्सरी से जानते थे, लेकिन उन्होंने कभी बातचीत नहीं की, क्योंकि संयुक्ता पढ़ाकू थी और मनीष को पढ़ाई से नफरत थी। एक्टर ने आगे बताया कि उनकी संयुक्ता के साथ बॉन्डिंग तब शुरु हुई जब एक्टर संयुक्ता की मां से ट्यूशन लेने लगे थे। अपनी दोस्ती के बारें में बात करते हुए उन्होंने बताया, "मैं उसे अपना सारा होमवर्क करने के लिए उसे मना लेता था; संयुक्ता खुशी-खुशी ऐसा कर देती थी। वह मेरे ब्रेक अप के बारे में जानने वाली पहली भी थीं!"


ऐसे हुआ था फीलिंग्स का एहसास

मनीष पॉल ने एक समय को याद करते हुए बताया कि जब वे एक साथ थिएटर में थे, और उन्हें एक इवेंट को होस्ट करने के लिए फोन आया। तब एक्टर संयुक्ता को वहीं फंसा छोड़कर अपने काम के लिए दौड़ गए थे, और उनके आश्चर्य की बात यह थी कि संयुक्ता उन पर गुस्सा नहीं थी, बल्कि कहा कि यह ठीक है। उन्होंने कहा, "तभी मुझे एहसास हुआ कि मेरे मन में उसके लिए फीलिंग्स हैं,"। इसके तीन दिन बाद मनीष ने अपनी फीलिंग्स को संयुक्ता के आगे बयान कर दिया था। स्कूल के बाद दोनों अलग-अलग कॉलेज गए लेकिन रोज मिलते थे। मनीष ने शेयर किया कि जब उन्होंने संयुक्ता से कहा कि वह एक एक्टर बनना चाहता है, तो संयुक्ता ने उन्हें मुंबई जाने के लिए कहा। जब मनीष को एक आरजे की फुल टाइम जॉब मिल गयी तब दोनों ने साल 2006 में शादी करने का फैसला किया।


कठिन समय में संयुक्ता ने ऐसे दिया साथ

मनीष ने दोनो के कठिन समय को याद करते हुए आगे बताया "मेरे साथ शिफ्ट होने के बाद, संयुक्ता ने एक टीचर के रूप में नौकरी की; मैं अपनी नौकरी और कुछ एंकरिंग असाइनमेंट में काम कर रहा था। हमें मुश्किल से एक दूसरे के लिए टाइम मिल पाता था, लेकिन उसने कभी शिकायत नहीं की... एक बार भी नहीं। फिर 2008 में, मैं एक साल के लिए बेरोजगार था- मेरे पास घर का किराया देने के लिए भी पैसे नहीं थे। लेकिन, संयुक्ता ने सब कुछ संभाल लिया। वह कहती थीं, 'धैर्य रखें-आपको जल्द ही एक अच्छा मौका मिलेगा।'" एक साल बाद, उन्हें एक टेलीविजन सीरियल मिला, और चीजें ठीक होने लगीं, क्योंकि उन्होंने रियलिटी शो और अवार्ड नाइट्स की होस्टिंग भी शुरू कर दी थी।


इसके बाद साल 2011 में मनीष और संयुक्ता एक लड़की और साल 2016 में एक लड़के के माता-पिता बनें। मनीष ने कहा, "आखिरकार मैं एक ऐसी जगह पर हूं जहां मैं संयुक्ता और अपने बच्चों के लिए समय निकाल सकता हूं। और यह एक नियम है कि मैं खाने की मेज पर काम के बारे में बात नहीं करता,"। अपनी कहानी को खत्म करते हुए एक्टर ने कहा कि उन्हें कभी-कभी आश्चर्य होता है कि वे इतने लकी कैसे हो गए। एक्टर ने कहा, "संयुक्ता के बिना, मैं शायद अभी भी सोच रहा था कि मुझे जीवन में क्या करना है। या इससे भी बदतर, मै जहां हूं केवल उसकी वजह से हूं। "