नेहरू की तस्वीर हटा कर लगी वीर सावरकर की तस्वीर तो दुखी हुई शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी, ट्वीट कर जताई नाराजगी

हाल ही में देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर मेजर ध्यानचंद रखा गया था इस पुरस्कार का नाम बदलते ही कांग्रेज भड़क उठी थी. कांग्रेज पार्टी के नेताओं ने इसका जमकर विरोध किया था, ऐसे में अब भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद की वेबसाइट की तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें से पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर हटा दी गई है.

दरअसल भारतीय इतिहास अनुसांधन परिषद ने नेहरू की तस्वीर को हटाकर वीरा सावरकर की तस्वीर को हटा दिया है. वीर सावरकर की तस्वीर को देखकर लोग इसको काफी पंसद कर रहे हैं. वहीं  इदर शिव सेना नेता प्रियंका चतुव्रेदी ने ट्टिवर पर एक पोस्ट शेयर की है जिसमें इस पोस्टर पर उन्होंने आपत्ती जताई है. 

प्रियंका का कहना है कि यदि आप स्वतंत्र भारत का  निर्माण में दूसरों की भूमिका को कम करते हैं तो आप कभी भी बड़े नहीं दिख सकते।आजादी का आजादी का अमृत महोत्सव तभी मनाया जा सकता है जब सभी को समानता स्वीकार किया जाए, भारत के पहले प्रधान मंत्री की तस्वीर को हटाकर ICHR अपनी क्षुद्रता और असुरक्षा को दर्शाता है।बात दें कि प्रियंका चतुव्रेदी की पोस्ट को देखते ही लोगों ने उनकी क्लास लगानी शुरू कर दी है.एक युजर ने लिखा है कि यहां महान गणितज्ञ कहना तो यह चाहती हैं कि इस तस्वीर में सावरकर को नहीं होना चाहिए लेकिन कह नहीं पा रही है.