सीएम मनोहर लाल ने लिया बड़ा फैसला- हरियाणा में इस शब्द के इस्तेमाल पर लगाया बैन

हरियाणा सरकार की तरफ से एक आधाकारिक बयान सामने आया है ,जिसमें सरकार ने गोरख धंधा शब्द का इस्तेमाल पर बैन लगाने का फैसला लिया है. गोरख धंधा शब्द का इस्तेमाल ज्यादातर लोग अनैतिक कामों का जिक्र करने के लिए उपयोग करते हैं.

हरियाणा सरकार ने गोरखनाथ समुदाय के प्रतिनिधिमंडल से बातचीत करने के बाद ही ये फैसला लिया है. डेलीगेशन ने खट्टर से इस शब्द पर प्रतिबंध लगाने की आग्रह किया था क्योंकि इससे संत गोरखनाख के अनुयायियों की भावनाओं को ठेस पहुंचती है.

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि गोरखनाथ संत थे और हम किसी भी भाषण व आधकारिक भाषा में इस शब्द का उपयोग नहीं कर सकते हैं, इससे गोरखनाथ संत के अनुयायियों की भावनाओ को आहत पहुंचती है. इसीलिए इस शब्द के प्रयोग पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है.

बता दें कि इससे पहले भी गोरख शब्द के बैन करने की मांग यूपी व राज्स्थान जैसे राज्यों में उठ चुकी है. वहीं नाथ संप्रदाय पूरे देश में इस शब्द को बैन करने की मांग करता है.