पुलिस ट्रैफिक इंचार्ज ने निभाया मानवता का धर्म, बेसहारा महिला की मदद करके उसके बहते आंसुओं को पोछा

उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में एक पुलिस वाले ने जो किया है वो वाकाई काबिले तारीफ है. दरअसल यातायात प्रभारी अनिल तिवारी ने एक बेसहारा महिला की मदद की है उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है.

दरअसल  ट्रैफिक इंचार्ज अनिल तिवारी अपनी टीम के साथ शहर के पीपल तिराहे पर अपनी ड्यूटी पर थे, तभी एक बेसहारा महिला आई जिसने फटे पुराने कपड़े पहने हुए उन्हें दिखाई दी. वो महिला अपने मासुम बच्चे को गोद में लेकर फफक- फफक कर रो रही थी.

बेसहारा महिला को देखकर ट्रैफिक इंचार्ज महिला के पास गए और उससे उसकी कहानी पूछने लगे. महिला ने बताया कि वो नाजिरपुरा इलाके की है और उसके पति ने उसको मार-पीटकर घर से बाहर कर दिया है, जिसका कारण उसके पास खाने पीने के लिए पैसे नहीं है और ना ही पहनने के लिए कपडे हैं. 

महिला की दर्दबरी कहानी सुनकर यातायाच प्रभारी का दिल पसीज गया और महिला और उसके बच्चे के लिए खाने का सामान खरीदकर दिया साथ ही मां और बच्चे दोनों के लिए कपड़ो का सेट खरीद कर दिया . इसके साथ ही यातायात प्रभारी ने पीडित महिला को आश्रवासन दिलाते हुए कहा कि उस जब भी मदद की जरूरत हो तो वे उनकी गांड़ी की पहचान कर लें और मदद के लिए उनके पास चली आए और ध्यान रहे कि हमेशा साफ-सफाई से रहना होगा. बता दें कि बहराइच के इस पुलिस ट्रैफिक इंचार्ज ने बेसहारा महिला की मदद करके इंसानियत की मिशाल पेश की है.