अमेरिका की वापसी पर तालिबानियों ने ऐसे मनाया जश्न, पहले छोड़े हुए विमानों पर चढ़कर खिचवाईं फोटो

तालिबान ने अपने जश्न मनाने में कोई भी कसर नहीं छोड़ी. उनकी खुशी का अंदाज़ा ऐसे ही लगाया जा सकता है कि उन्होंने जमकर आतिशबाज़ी की और गोलियां चलायीं. पूरा आसमान उनके द्वारा की गयी आतिशबाज़ी में रंग बिरंगा हो गया.

सूत्रों के मुताबिक, आखिरी अमेरिकी विमान के काबुल हवाईअड्डे से उड़ान भरने के साथ ही बाहर मौजूद तालिबानी लड़ाके अंदर आ गए और जश्न मनाने लगें. हालांकि, तालिबानियों का जश्न स्वाभाविक रूप से अफ़ग़ानियों की मुसीबत ही रहा. वहीं, काबुल एयरपोर्ट मानों पूरी तरह रोशनी में तब्दील हो गया हो. बता दें कि, जैसे ही तालिबानियों को खबर हुई कि आखिरी यूएस विमान भी चला गया है, तो वो फौरन अंदर पहुंच गए.

जानकारी ये भी मिली कि, अमेरिकी सेना ने कुछ विमान और हेलीकॉप्टर काबुल में ही छोड़े. इतना ही नहीं तालिबानी अमेरिकी सेना के जाते ही खुशी से फूले नहीं समाएं और गोलियां चलाते हुए हवाईअड्डे में दाखिल हुए. वहीं प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि, तालिबानी बच्चों की तरह यूएस आर्मी द्वारा छोड़े गए विमानों पर सवार होकर फोटो खिंचवाते रहें.

मालूम हो कि, तालिबान ने 31 अगस्त की डेडलाइन तय की थी. वहीं, ब्रिटेन ने रविवार को अपना रेस्क्यू मिशन खत्म किया और अमेरिका ने सोमवार को मुल्क छोड़ा. आपको बता दें कि, अभी भी तक़रीबन 200 करीब अमेरिकी अफगानिस्तान में ही फंसे हैं. वहीं, अमेरिका का कहना है कि वो अफगान सहयोगियों की बाहर निकलने में सहायता करेगा. हालांकि, अमेरिका इन्हें बाहर निकालने में कितना सफल होता है ये देखना अभी बाकी है.

मिली जानकारी के मुताबिक, यू.एस. सेंट्रल कमांड के प्रमुख जनरल फ्रैंक मैकेंजी बताते हैं कि, अमेरिका के आखिरी विमान ने सोमवार रात को काबुल से उड़ान भरी. उन्होंने दुःख जताते हुए कहा, ‘हम कई लोगों को वहां से नहीं निकाल पाए, इसका दुख हमेशा रहेगा. यदि हमें 10 दिन और मिल जाते, तो हम सबको अफगानिस्तान से निकाल लाते’.