यूपी: अब घर बैठे बन सकेगा ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस, आवेदन के लिए करना होगा ये काम

उत्तर प्रदेश में भी अब घर बैठे ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का पायलट प्रोजेक्ट आरंभ हो चुका है और इसका ट्रायल बाराबंकी आरटीओ कार्यालय से शुरू हो गया है. करीब 15 दिनों तक इस प्रक्रिया का ट्रायल चलेगा जिसके बाद इस सुविधा को प्रदेश भर के जिलों के लिए शुरू कर दिया जाएगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, यूपी के बाराबंकी में एआरटीओ पंकज सिंह ने इसकी शुरुआत की. लाइसेंस बनवाने के लिए पंकज सिंह बताते हैं कि, लर्निंग डीएल आवेदक parivahan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करेंगे, जहां आधार नंबर डालते ही लिंक करने के बाद आवेदक का पूरा ब्यौरा सामने होगा. आधार कार्ड पर दर्ज नाम, मोबाइल नंबर और पता भरना पड़ेगा. सिग्नेचर अपलोड करने, फीस जमा करने और स्लॉट लेने की प्रक्रिया आदि से जुड़े कागजातों की ऑनलाइन जांच भी होगी.

बात करें लाइसेंस के लिए होने वाली परीक्षा की तो आवेदन के बाद परीक्षा भी ऑनलाइन होगी. परीक्षा के लिए आवेदक को एक ट्यूटोरियल दिखाया जाएगा जिसे निर्धारित समय के अंदर देखना होगा. फिर 16 प्रश्न पूछे जाएंगे जिनमें से 9 का सटीक जवाब देना होगा. यदि आवेदक परीक्षा पास कर लेते हैं तो एआरटीओ लर्निंग लाइसेंस पर अपनी मुहर लगाएंगे. आपको बता दें कि मुहर लगने के बाद प्रिंट आउट निकाल कर इस्तेमाल में लाया जा सकता है.

मिली जानकारी के मुताबिक, पंकज सिंह बताते हैं कि, एनआईसी की वेबसाइट को अपग्रेड कर दिया गया है. अब घर बैठे लाइसेंस बन सकेगा. बाराबंकी में 15 दिन के ट्रायल के बाद इसे पूरे प्रदेश भर में लागू कर दिया जाएगा.

बताते चलें कि, ऑनलाइन लाइसेंस बनने से समय की भी बचत होगी. आवेदकों को आरटीओ का चक्कर नहीं काटना पड़ेंगे. केंद्रीय राजधानी दिल्ली के बाद अब उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया शुरू होगी.