महिलाओं की डेडबॉडी के साथ भी क्रूरता करते हैं तालिबानी, महिला पुलिसकर्मी ने बताई खौफनाक सच्चाई

तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे को 1 हफ्ता हो चुका है. तालिबान की क्रूरता को पूरी दुनिया जानती है.वहां महिलाओं पर अत्याचार किया जाता है जिससे महिलाए उससे बचकर दुसरे देश में प्लान कर रही हैं. दरअसल तालिबान के हत्थे से छूटकर एक महिला पुलिसकर्मी  भारत आई है जिनसे तालिबान के कट्टरपंथियों के बारे में बड़ा खुलासा किया है. 

महिला ने कहा है कि तालिबानी की क्रुरता इतनी घिनौनी है कि ये लाशों के साथ भी सेक्स करते हैं और इसके साथ ये भी कहा कि ये अफगानिस्तान के हर घर की एक लड़की चाहते हैं. अफगानिस्तान से दिल्ली आई मुस्कान नाम की लड़की ने मीडिया पर इंटरवीयू देते बताया कि हमने अफगानिस्तान तालिबान के खौफ के कारण छोड़ दिया. वो सबसे पहले वॉनिंग देते हैं और अगर नहीं मानी तो उठा ले जाते हैं या फिर सिर में गोली मार देते हैं.

मुस्कान ने आगे कहा कि उसके साथ एक महिला काम करती थी जिसे अफगानी उठाकर ले गए थे उसकी डेडबॉडी भी 20 से 25 दिन के अंदर मिली थी, वो लोग इतने वहशी दरिदे थे कि वो डेडबॉडी के साथ भी सेक्स करते थे जिसकी लोग कल्पना भी नहीं कर सकते.

मुस्कान ने आगे बताया कि जब तालिबानी ने उस लड़की डेडबॉडी परिवार को लौटाई तो कहा कि यदि किसी भी लड़की ने सरकार के साथ काम किया तो उसके साथ भी यहीं हाल होगा. इतना ही नहीं वो 10 से 12 साल की लड़की को भी घर से उठा लाते हैं.यदि किसी ने अपनी लड़की नहीं दी तो वो पूरे परिवार को मार देते हैं. मुस्कान ने इसीलिए अफगानिस्तान छोड़ने का फैसला लिया है. मुस्कान कहती है कि उन्होंने मीडिया के जरिए पूरी दुनिया से आगे है कि तालिबान अब पहले जैसा नहीं है ,बदल चुका है लेकिन ये सब दिखावा है झूठ है.