शायर मुनव्वर राणा ने फिर उगला ज़हर, कहा ‘यूपी के हालात देख यहां से भाग जाने का मन करता है’

आगामी यूपी चुनाव की सरगमियां तेज हो चुकी है.इसी दौरान सियासत के बड़े बड़े वादे सुनने को मिल रहे हैं.वहीं अब उर्दू के शायर मुन्व्वर राणा का तीखा बयान सामने आया है.मुनव्वर राणा ने कहा है कि यदि एक बार फिर से यूपी में योगी आदित्यनाथ नाथ की सरकार बनती है तो मैं यूपी छोड़कर कोलकाता वापस चला जाऊंगा.

दरअसल मुनव्वर राणा का कहना है कि औवसी और बीजेपी एक ही सिक्के के पहलु है. यदि योगी आदित्यनाथ 2022 में  एक बार फिर यूपी के मुख्यमंत्री बनते हैं तो इसके पीछे (एआईएमआईएम) के नेता असदुद्दीन ओवैसी का ही हाथ होगा.

 कवि मुनव्वर राणा ने कहा है कि भाजपा और औवेसी लोगों को गुमराह करने के लिए शैडो बॉक्सिंग में लिप्त हैं,.ये दोनों की पार्टिया मतदाताओं का ध्रवीकरण करके चुनावी फायदा उठाते हैं. इसका बड़ा हिस्सा भाजपा को चला जाता है.

मुनव्वर राणा ने आगे कहा कि ओवैसी यूपी में मुसलमानों के वोट बांटने के लिए आए हैं. इनको यूपी की जरूरत नहीं है. ये हैदराबाद में ही अपना मंजनू क्यों नहां ढूंढ लेते. बीजेपी पर आरोप लगाते हुए मुनव्वर राणा ने कहा है कि बिजेपी को हिंदु मुस्लिम एकता बिजेपी को पसंद नहीं आती है.

बीजेपी की सरकार में मुस्लिमों को अलकायदा से जोड़कर प्रेशर ककुर के जरिए आतंक के झूठे केस में फंसाया गया है इसीलिए मुझे डर है कि कल एटीएस मुझे आतंकवादी घोषित करके उठा ना ले जाएं.

मुनव्वर राणा ने प्रस्तावित यूपी की जनसंखया नियंत्रण विधेयक पर कहा है कि मुसलमानों के आठ बच्चे इसीलिए है ताकि पुलिस यदि उनमें से दो बच्चों को आतंकी मनाकर उठाती है और अगर कोरोनावायरल से दो बच्चे मर जाए तो अपने परिवार की देखभाल के लिए चार बच्चे तो होंगे.