खुशखबरी! देश में 2 साल के बच्चों को लगाई जा रही कोरोना वैक्सीन

देश में अभी भी कोरोना वायरस का खतरा मंडरा रहा है. पिछले 24 घंटे में देश में करीब 40,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और इन मामलों ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. इस बीच राहत की खबर यह है कि करोड़ों लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है.

मिली जानकारी के मुताबिक, दुनिया भर में बच्चों के टीकाकरण को लेकर शोध, परीक्षण चल रहे हैं. इस बीच 2 साल के बच्चों को क्यूबा देश ने कोरोना वैक्सीन देना शुरू कर दिया है. आपको बता दें कि, ऐसा करने वाला क्यूबा दुनिया का पहला देश बन गया है।

सूत्रों के मुताबिक, अब्दला और सोबराना वैक्सीन समेत दो कोरोना वैक्सीन क्यूबा में लगाई जा रही हैं. इन टीकों का बच्चों पर क्लीनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है. जानकारी ये भी मिली है कि, क्यूबा में 3 सितंबर को 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को कोरोना का टीका लगना शुरू हुआ है. इसके बाद अब 2 से 11 साल के बच्चों के लिए कोरोना की वैक्सीन लगना शुरू हो गई है. हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO द्वारा मान्यता नहीं दी गई है.

वहीं, भारत में 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को कोरोना की वैक्सीन देने की तैयारियां शुरू हो गई हैं. इसके लिए जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन को देश में आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी गई है. बता दें कि, ये 12 साल से ऊपर के बच्चों के लिए है. आपको बता दें कि इस वैक्सीन को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने मंजूरी दे दी है.

वहीं, चीन, यूएई और वेनेज़ुएला जैसे देशों ने भी छोटे बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन पेश करने की घोषणा की है. लेकिन अभी इसे शुरू नहीं किया जा सका है.