महिला के बाल काटने का सैलून को देना पड़ा 2 करोड़ का मुआवज़ा

दिल्ली के एक सैलून को एक महिला के बाल काटना काफी महंगा पड़ गया। दरअसल, महिला के बाल गलत तरीके से काटने के चलते सैलून को महिला के 2 करोड़ रुपये का मुआवजा देना पड़ा।

दिल्ली के एक होटल में स्थित है इस सैलून में साल 2018 में आशना रॉय अपने बालों के ट्रीटमेंट के लिए गई थीं। . वह ‘हेयर प्रोडक्ट’ की मॉडल थीं और उन्होंने कई बड़े ‘हेयर-केयर ब्रांड’ के लिए मॉडलिंग की थी। लेकिन सैलून द्वारा उनके निर्देश से उलट गलत बाल काटने के कारण उन्हें अपने काम से हाथ धोना पड़ा और आर्थिक नुकसान भी झेलना पड़ा।
रॉय ने बताया कि मैंने सैलून में साफ तौर पर बालों को आगे से लंबे ‘फ्लिक्स’ रखने और पीछे से बालों को चार इंच काटने को कहा था। लेकिन हेयरड्रेसर ने अपनी मर्जी से महज चार इंच बाल छोड़कर उसके लंबे बालों को पूरी तरह से काट दिया।
फिर जब आशना ने मैनेजर से शिकायत की तो उन्होंने नि:शुल्क हेयर ट्रीटमेंट की बता कही। इसते बाद आशना का दावा है कि इस दौरान केमिकल से उसके बालों को बड़ा और स्थाई नुकसान हुआ। इस सब से नाराज रॉय राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निस्तारण आयोग पहुंची और तीन करोड़ रुपये मुआवजा दिलाने का अनुरोध किया।
हालांकि अब आयोग ने आदेश दिया कि शिकायतकर्ता को दो करोड़ रुपये का मुआवजा दिया जाए। आठ सप्ताह (दो महीने) के भीतर शिकायतकर्ता को मुआवजे की राशि दी जाए।