तालिबानियों ने 6 महीने के बच्चे के सामने ही बड़ी बेरहमी से कर दी उसकी मां की हत्या

अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता हासिल करते ही वहां पर महिलाओं के बुरे दिन शुरू हो गए है. महिलाओं के अधिकारों को छीना जा रहा है. वहां की महिलाएं अपने अधिकारों को पाने के लिए जगह -जगह प्रदर्शन कर रही हैं, इसी दौरान अफगानिस्तान के लड़ाकों ने एक 3 बच्चों की मां की बेरहमी से हत्या कर दी है.

द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि तालिबान ने फरवा नाम की महिला को बड़ी ही क्रुर मौत दी है.तालिबान जिस तरह से वहां के लोगों पर हमला कर रहा है उसी बरताव को देखते हुए लाखों को देश को छोड़ना चाहते हैं.

खबरों के अनुसार फरवा के भाई रोहुल्लाह हुसैनी का कहना है कि फरवा अपने घर में थी उसने बाहर किसी को मदद के लिए चिल्लाते हुए सुना वे आवाज सुनते ही जैसे अपने छह महिने के बच्चे को गोद में लेकर बाहर की तरफ दोड़ी तो उसका तीन साल का बच्चा भी उसके पीछे दोड़ते हुए आया लेकिन बाहर आते ही तालिबानियों ने फरवा की भी हत्या कर दी.

फरवा के मर जाने के उसके शव को उसके पति और बच्चे से ये कहकर दूर किया गया कि वे सो रही है, हालांकि उसका 6 साल का बच्चा समझ गया कि उसकी मां को मार दिया गया है.

फरवा के भाई रोहुल्लाह हुसैनी ने आगे कहा कि उसका तीन  साल का बच्चा अपने पिता से बार-बार पूछता है कि मां कब उठेगी?” वहीं उसके छह महिने के बच्चे को अस्तपताल में भर्ती कराना पड़ा है क्योंकि वे लगातार अपनी मां के लिए रो रहा है और ना ही उसने कुछ खाया पीया है. 

हुसैनी ने आगे बताया हम नहीं जानते हैं कि हमारी बहन को किसने मारा है लेकिन वो जो भी थे वो बहुत ही गुस्से में थे, फरवा के निधन से मेरे बहनोई भी सदमे हैं.