ऐसा क्या तहलका मचाया 95 साल की वृद्ध महिला ने सीएम ने करदी तारीफ, वीडियो वायरल

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया जिसमे मध्यप्रदेश के देवास ज़िले की एक वृद्ध महिला साड़ी पहनकर कार चला रही हैं। इस वीडियो शेयर करने के साथ मुख्यमंत्री ने सराहते हुए लिखा कि-‘दादी मां ने हम सभी को प्रेरणा दी है कि अपनी अभिरुचि पूरी करने में उम्र का कोई बंधन नहीं होता है। उम्र चाहे कितनी भी हो, जीवन जीने का जज़्बा होना चाहिए!’ आपको बतादे दादी का नाम रेशम बाई तंवर है और वह देवास जिले के बिलावली क्षेत्र की रहने वाली हैं। इस वीडियो को ट्विटर पर कई यूजर्स ने शेयर किया जिसके बाद यह वीडियो वायरल हो गया। दादी के इस वीडियो ने सोशल मीडिया पर धमाल मचा दिया है जिसके बाद दादी चारो ओर से प्रंशसा बटोर रही हैं।

रेशम बाई सिर्फ ड्राइविंग ही नहीं बल्कि आज के जनरेशन की तरह एंड्राइड मोबाइल भी चलाती हैं साथ ही गाय को चारा भी डालती हैं।
रेशम बाई के 3 बेटे और दो बेटियां है और उनकी बेटी और बहू सहित उनके परिवार के सभी सदस्य ड्राइविंग जानते थे और यही वजह है की दादी ने ड्राइविंग सीखी थी। समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से उन्होंने कहा, “मुझे वास्तव में ड्राइविंग पसंद है। मेरे पास कारें हैं, साथ ही ट्रैक्टर भी हैं।”

रेशम बाई के कार चलाने के अंदाज़ को बहुत पसंद किया गया। हलाकि कई लोगों ने यह सवाल भी उठाया कि क्या उसके पास इस तरह खुली सड़क पर कार चलाने के लिए वैध ड्राइविंग लाइसेंस है। दरअसल मध्य प्रदेश के परिवहन विभाग के अनुसार , स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस 20 साल या 50 साल की आयु तक, जो भी पहले हो, के लिए जारी किया जाता है। कमर्शियल वाहन के लिए जारी स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस को तीन साल के बाद रिन्यू कराना पड़ता है।
आज के समय की बात करें तो, केंद्र सरकार भारत में ड्राइविंग लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए 75 वर्ष की अधिकतम आयु सीमा के लिए मोटर वाहन अधिनियम में बदलाव पर विचार कर रही है।