औरतों के लिए तालिबान ने दिया ऐसा बेतुका बयान जो शायद किसी दूसरे देश ने ना दिया हो

अफगानिस्तान में तालिबान राज के पश्चात इस चीज का दर्द भर रहा है कि अफगान महिलाओं को फिर से उसी तरह के कठोर नियमों का सामना करना पड़ेगा जो उन्होंने 1990 में किया था।


अफगानिस्तान में तालिबान शासन के गठन के बाद, सरकार के भीतर महिलाओं की हिस्सेदारी को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं। हालांकि, स्थानीय मीडिया ने तालिबान के एक प्रवक्ता के किए हुए दावे को मध्य नजर रखते हुए कहा है कि वहां कोई महिला मंत्री नहीं होगी तालिबान सरकार ने महिलाओं को सरकार मैं शामिल नहीं किया जाएगा। स्थानीय मीडिया टोलो न्यूज ने तालिबान के एक प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘एक महिला मंत्री नहीं हो सकती, यह ऐसा है जैसे आप उसके गले में कुछ डाल देते हैं जिसे वह संभाल नहीं सकती। एक महिला के लिए कैबिनेट में कोई आवश्यकता नहीं है, उन्हें बस बच्चे पैदा करने पर ध्यान देना चाहिए। महिला प्रदर्शनकारी पूरे अफगानिस्तान का प्रतिनिधित्व नहीं करती हैं।