सांसद मनीष तिवारी ने सिद्धू पर दिखाए तीखे तेवर, पंजाब और पाकिस्तान को लेकर कही ये बात

पंजाब में राजनीतिक खेल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद कई मंत्रियों ने इस्तीफे की लाइन लगा दी है जिससे पंजाब की सियासत गर्माई हुई है. इस बीच अब कांग्रेस के सीनियर नेता और सांसद मनीष तिवारी ने मौजूदा हालात को देखते हुए चिंता जाहिर की है.


दरअसल, सांसद मनीष तिवारी ने मौजूदा हालात पर चिंता जाहिर कर और बिना नाम लिए नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जिन्हें पंजाब मसले को सुलझाने का जिम्मा दिया गया था, उनको पंजाब की समझ ही नहीं थी.


मिली जानकारी के मुताबिक, मनीष तिवारी ने कहा कि पंजाब को सुरक्षित हाथों में होना चाहिए. पंजाब एक सीमावर्ती राज्य है, जिसकी सीमा पाकिस्तान से लगती है लेकिन फिर भी मामले को बुरी तरह हैंडल किया गया जोकि दुर्भाग्यपूर्ण है. सांसद मनीष तिवारी ने कहा, ‘पंजाब की ताजा स्थिति से अगर कोई इस वक्त खुश है तो वह पाकिस्तान है. इसके अलावा कृषि कानूनों को लेकर उन्होंने कहा कि, पिछले एक साल से पंजाब के किसान कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग लेकर सड़कों पर बैठने को मजबूर हैं. ऐसे में पंजाब के लोगों के कल्याण के प्रति बेहद संवेदनशील होने की जरूरत थी.


इसके अलावा मनीष तिवारी ने ये भी कहा कि, पंजाब में राजनीतिक स्थिरता जरूरी है. वह बोले, ‘चुनाव एक पहलू है पर राष्ट्र हित दूसरा पहलू है. पंजाब की राजनीतिक स्थिरता को बहाल करने की जरूरत है.’


बताते चलें कि मंगलवार को सिद्धू के इस्तीफे के बाद से ऐसे कयास लगाएं जा रहें थे कि सिद्धू ने चरणजीत सिंह चन्नी से आपसी तालमेल ना बैठ पाने के कारण इस्तीफा दिया. वहीं, जानकारी ऐसी भी मिली है कि पंजाब की गर्माई सियासत को पंजाब के वर्तमान सीएम चरणजीत चन्नी जल्द ही सिद्धू से बातकर ठंडी करेंगे.