ओवैसी पर हुई कानूनी कारवाई,मोदी-योगी के लिए अभद्र भाषा का किया इस्तेमाल

एआईएमआईएम के प्रमुख ओवैसी पर बाराबंकी जिले में भड़काऊ भाषण देने का मामला दर्ज किया गया है।ओवैसी पर जिले के एक निश्चित समुदाय को भड़काने और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने का आरोप लगा है.

बाराबंकी के एसपी यमुना प्रसाद के अनुसार ओवैसी ने कोरोना महामारी उल्लंघन किया है इसके अलावा अपने भाषण के दौरान उन्होंने योगी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि  प्रशासन ने इस साल की शुरूआत में एक सदी पुरानी मस्जिद को ‘शहीद’ कर दिया था।इसे”राजनीतिक विध्वंस” कहा था. 

इसके साथ बीजेपी पर गलत टिपण्णी करते हुए ओवैसी ने कहा है कि जब 2014 से जब से बीजेपी सत्ता में आई हैं तभी से धर्मनिरपेक्षता कमजोर हुई है. इसके अलावा गैरकानूनी गतिविधियों का विरोध नहीं करने पर समाजवाद पार्टी व बहुजन समाज पार्टी पर भी निशाना साधा था.

असदुद्दीन ओवैसी ने प्रशासन पर विध्वंस में कानून का पालन नहीं करने का आरोप लगाया है.इसके के चलते बाराबंकी के एसपी यमुना प्रसाद ने कहा है कि ओवैसी पर भारतीय दंड संहिता के अनुसार 153 ए, 188, 169 और 170 के साथ महामारी रोग अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ है.