इन कारणों से दिया नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्तीफा! पत्र में साफ नहीं इस्तीफे की असल वजह

पंजाब में राजनीतिक सियासत लगातार बढ़ रही है. नवजोत सिंह सिद्धू के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने से पंजाब की राजनीति में भूचाल आ गया है. बताया जा रहा है कि पंजाब के भविष्य को लेकर सिद्धू ने ऐसा किया.

मिली जानकारी के मुताबिक, सोनिया गांधी को भेजे इस्तीफे में नवजोत सिंह सिद्धू ने लिखा कि, वह पंजाब के भविष्य के साथ समझौता नहीं करना चाहते. हालांकि, ये तो रही कागजी भाषा लेकिन कयास ऐसे लगाए जा रहें हैं कि, सिद्धू के इस्तीफे की असल वजह नए सीएम चरणजीत सिंह चन्नी हैं. खबर ऐसी है कि, सिद्धू की सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के साथ बन नहीं रही थी और उनके कुछ फैसलों से भी सिद्धू खुश नहीं थे.

आपकों बता दें कि, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे इस्तीफे में नवजोत सिंह सिद्धू ने लिखा कि, ‘समझौता करने से इंसान का चरित्र खत्म होता है. मैं पंजाब के भविष्य से समझौता नहीं कर सकता इसलिए मैं प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देता हूं और आगे कांग्रेस के लिए काम करता रहूंगा.’ वहीं, अचानक से अपने पद से इस्तीफा देने से पंजाबी राजनीति को भी झटका लगा है. इस्तीफा देने की पीछे की वजह का लोग अलग-अलग एंगल निकाल रहें हैं.

सूत्रों के मुताबिक, ऐसे कयास लगाए जा रहें हैं कि, नवजोत सिंह सिद्धू कैबिनेट में जिस तरह पोर्टफोलिया बांटा गया उससे खुश नहीं थे. इसके अलावा कुछ अफसरों के ट्रांसफर से भी सिद्धू नाराज हुए. वहीं, नई कैबिनेट में सुखविंदर सिंह रंधावा को गृह मंत्री बनाया गया जबकि नवजोत सिंह सिद्धू और उनके साथी इसका विरोध करते रहें. इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण बात, जो ये सामने आ रही है कि नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब के वर्तमान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की आपस में बन नहीं रही थी. हालांकि, इस्तीफा देने की असल वजह जल्द ही सामने आ सकती है.