अगर आपने भी रखी है घर में यह पांच चीजें तो तुरंत निकाल फेंके, है दरिद्रता के सूचक

संसार के प्रत्येक व्यक्ति की यही इच्छा होती है कि उसके घर में सुख-समृद्धि बनी रहे। घर का वातावरण सकारात्मक ऊर्जा से भरा होना चाहिए। वास्तु शास्त्र के मुताबिक, नकारात्मक ऊर्जा आपके, आपके जीवन और हर एक गतिविधि के लिए हानिकारक है। अनजाने में लोग कुछ ऐसी गलती कर देते हैं, जिसकी बदौलत घर में नकारात्मक ऊर्जा हावी होने लगती है और धन हानि होने लगती है। घर में बिल्कुल भी नकारात्मक ऊर्जा नहीं होनी चाहिए। वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में पांच ऐसी चीजें हैं, जो नकारात्मक ऊर्जा देती हैं। इन चीजों को जानकर तुरंत उन्हें घर से बाहर से फेंक दे। इन्हें घर में रखने से आप कंगाल हो सकते हैं।

घर में कबाड़ न रखें, जाल साफ रखें


वैसे भी घर को साफ सुथरा रखना जरूरी है, लेकिन अगर आप इस काम में लापरवाही बरतते हैं तो यह आपके लिए कई बार नुकसानदायक भी होता है। किसी भी घर में जाले और कबाड़ को नकारात्मक ऊर्जा का स्रोत माना जाता है। जिस घर में साफ-सफाई रहती है, उसी घर में माता लक्ष्मी का वास होता है। यदि आपके घर में कबाड़ का सामान है, चाहे वह एक खराब वस्तु है जिसे आपने मरम्मत के लिए लंबे समय तक रखा है, तो, या तो इसे जल्द से जल्द ठीक करें या इसे घर से बाहर फेंक दें। घर के अंदर कभी भी जाले नहीं लगाने दें।

झाड़ू को घर के अंदर छिपाकर रखें


झाड़ू हर घर में होती है। हालांकि झाड़ू को भी देवी लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। झाड़ू को घर में रखने का तरीका भी वास्तु शास्त्र में बताया गया है। झाड़ू को ऐसी जगह पर रखना चाहिए, जहां वह किसी को दिखाई न दे। झाड़ू को खड़ा नहीं रखना चाहिए। शास्त्रों के मुताबिक शाम के समय कभी भी घर में झाडू नहीं लगाना चाहिए। घर में हमेशा अंदर से बाहर की ओर झाडू लगाएं। घर के सदस्य जो वास्तु शास्त्र के इन उपायों का पालन नहीं करते हैं उन्हें आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

अशुभ होता है घर में कबूतर का घोंसला


आपने अक्सर घरों में देखा होगा कि कबूतर अपना घोंसला बनाते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार जिस घर में कबूतरों का घोंसला होता है उस घर में दरिद्रता होती है। खासकर अगर किसी घर मैं कबूतर का अंडा टूट जाए तो यह निकट भविष्य में आर्थिक समस्या के आने का सूचक माना जाता है।

कांटेदार पौधे कतई ना लगाएं


घरों को सुंदर बनाने के लिए लोग पेड़ पौधे लगाते हैं। ऐसे में गमलों में या घर के बगीचे में पौधे लगाने चाहिए, लेकिन ध्यान रहे कि कांटेदार पौधे नहीं लगाने चाहिए। वास्तु शास्त्र के मुताबिक काँटेदार पौधे होने से घर के सदस्यों के जीवन में आर्थिक समस्याएँ आती हैं। ऐसे पौधे लगाना या रखना जिनसे दूध निकलता हो, उन्हें भी घर या आंगन में वर्जित माना गया है।

घर में सीलन ना आने दे


अगर घर के अंदर नमी या पानी टपक रहा है तो यह अक्सर अशुभ भी होता है। पानी को धन का प्रतीक माना जाता है। जिस घर की दीवारें नम होती हैं, उस घर में लक्ष्मी का वास नहीं होता। साथ ही जिन घरों के नलों से पानी टपकता रहता है। वहां रहने वाले सदस्यों को भी जीवन में आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है।