कोरोना ‘महामारी’ को लेकर आई बड़ी खबर-अब नहीं आएगी तीसरी लहर!

देश में कोरोना वायरस के मामले घट रहे हैं. देश में मंगलवार को 26 हजार मामले सामने आए हैं और 252 मौतें दर्ज की गई हैं. वहीं एम्स निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया के मुताबिक अब कोरोना संक्रमण महामारी नहीं रह गया है लेकिन इसके साथ ही उन्होंने सावधान किया है जब तक देश में हर किसी को वैक्सीन नहीं लग जाती है तब तक सभी को सतर्क रहना चाहिए. 

कोरोना की गाइडलाइन का पालन अवश्य करना चाहिए,भीड़ भाड़ से दूरी बनाए रखे.डॉक्टर गुलेरिया ने बताया है कि धीरे धीरे देश में कोरोना के मामले कम होते जा रहे है. जितनी तेजी से भारत में वैक्सीनेशन किया जा रहा है उससे महामारी की तीसरी लहर आना मुश्किल है.

 एम्स डायरेक्टर डॉक्टर गुलेरिया के अनुसार अब कोरोना केवल आम फ्लू खांसी,जुकाम की तरह ही रह जाएगा. इससे लड़ने लिए लोगों के शरीर में इम्युनिटी तैयार हो चुकी है.खतरा केवल उन लोगों को है जिनका इम्युनिटी लेवल काफी कम है.

वहीं जब वैक्सीन को लेकर सवाल पूछा गया कि क्या वैक्सीन जीवनभर लोगों को सुरक्षा प्रदान करेगी या फिर से लोगों को बुस्टर डोस दी जाएगी. इस सवाल का जवाब देते हुए डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि पहले भारत में प्राथमिकता ये है कि सभी लोगों को वैक्सीन की दोनो डीज लग जाए और बच्चो को भी वैक्सीन लग जानी चाहिए इसके बाद ही बूस्टर डोज के बारे में सोच विचार करना चाहिए.

भारत सरकार दूसरे देशों को भी वैक्सीन डोनेट करने का काम कर रही है.  एम्स निदेशक के मुताबिक अगर दुनिया के किसी भी देश के लोग वैक्सीन नहीं लगवा पा रहे तो इससे हर देश को खतरा है क्योंकि वायरस कहीं से भी फैल सकता है.  भारत दुनिया को वैक्सीन बांटकर अपनी बड़ी जिम्मेदारी निभा रहा है.