अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा-तालिबान की जीत पर भारतीय मुसलमानों का जश्न मनाना खतरनाक

अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के बाद कुछ भारतीय इस्लामिक कट्टरपंथियों ने इस जीत का जश्न मनाया था इसी बीच सिनेमा जगत के अभेनता नसीरुद्दीन शाह ने तालिबान का समर्थन करने पर भारतीय मुसलमानों  को नसीहत देते हुए कहा है कि इसकी जीत की खुशी मनाना खतरनाक है. अभिनेता ने बुधवार को एक वीडियो शेयर शेयर किया था.इस वीडियो में वे हिंदुस्तानी इस्लाम के बारे में समझा रहे हैं.

नसीरुद्दीन शाह ने आगे कहा है कि वे हिंन्दुस्तान के मुसलमानों को खुद से पूछना चाहिए कि वे अपने धर्म में सुधार लाना चाहते हैंं या फिर वहीं पुरानी वहशीनपन के साथ जीना चाहते हैं. इस वीडियो में नसीरुद्दीन ने आगे कहा कि तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर कब्जा पा लेना दुनिया भर के लिए फिक्र की बात है इससे कम खतरनाक नहीं है हिंदुस्तानी मुसलमानों के कुछ तबकों का उन वहशियों की वापसी पर जश्न मनाना। 


हर हिंदुस्तानी मुस्लमान को खुद ये सवाल पूछना चाहिए कि वे अपने मजहब में सुधार चाहता है या फिर वहीं वहशीपन की तरह रहना चाहता है जो कि पिछले समय से चला आ रहा है. इसके साथ ही उन्होेंने कहा कि मैे हिंदुस्तानी मुसलमान हूं  और जैसा कि मिर्जा गालिब कह गए हैं, मेरा रिश्ता अल्लाह मियां से बेहद बेतकल्लुफ है, इसीलिए मुझे बेतकल्लतुक है मुझे सियासी मजहब को कोई जरूरत नहीं है। हिंदुस्तान का इस्लाम सबसे अलग है खुद कभी ऐसा वक्त ना लगाएं कि हमे उसे पहचान भी ना पाए.