दिल्ली की खूबसूरती में लगे चार चांद, इन व्यवस्थाओं के साथ जनता के लिए खुला चांदनी चौक

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पर्यटकों के घूमने के लिए पर्याप्त स्थान है. साथ ही दिल्ली में और भी चीजें विकसित की गई हैं. राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को सौंदर्यीकरण होने के बाद चांदनी चौक का उद्घाटन कर दिया जिससे राजधानी में चार चांद लग गए.

मिली जानकारी के मुताबिक, ऐसा दावा किया जा रहा है कि यहां चांदनी चौक आने वाले पर्यटकों को एक बार फिर पुराने शाही बाजार का अंदाज देखने को मिलेगा. चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण में सड़कों की खूबसूरती, पर्यावरण, लोगों की जरूरतों, सुरक्षा आदि का पूरा ध्यान रखा जाएगा. एक तरीके से दिल्ली का और भी ज्यादा विकास हो सकेगा इसके साथ ही रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकते हैं.

वहीं, इस खास मौके पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, चांदनी चौक कभी दिल्ली की शान हुआ करती थी, लेकिन लंबी उपेक्षा के कारण इसका गौरव कम हो गया था. टूटी सड़कें, ट्रैफिक जाम, लटकते बिजली के तार चांदनी चौक को बेहद खराब बना रहे थे, नए ढंग से विकसित करने के बाद अब यह अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं से लैस हो गया है. यहां आने वालों को अब न केवल शानदार नजारा देखने को मिलेगा, बल्कि लोगों को ऐतिहासिक धरोहर का ध्यान भी कराया जाएगा.

मालूम हो कि चांदनी चौक परांठे वाली गली के लिए भी काफी ज्यादा मशहूर है जिस पर मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि चांदनी चौक के परांठे और कचौरी की पुरानी दुकानें अपने शानदार जाएके के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है. यहां आने जाने वाले चांदनी चौक के स्थानीय स्वाद का भी आनंद ले सकें, इसके लिए यहां रात 12 बजे तक स्ट्रीट फूड बेचने को भी अनुमति दी गई है.

बात करें नए चांदनी चौक परियोजना की तो जानकारी के अनुसार, लोगों की हर सुविधा का पूरी तरह से ध्यान रखा जाएगा. इसके लिए पैदल यात्रियों की सुविधा हेतु शौचालय, पीने के पानी की व्यवस्था, एटीएम और कूड़ेदान जैसी सुविधाएं हैं. दिव्यांगों के लिए अनुकूल फर्श बनाई गई है. साथ ही दिव्यांगों के लिए यूनिसेक्स शौचालय और रैंप का प्रावधान किया गया है.

इतना ही नहीं चांदनी चौक देखने आने वाले पर्यटकों की सुविधा के मद्देनजर सड़क पर जगह-जगह बैठने के बोलर्ड्स और सैंड स्टोन की सीटें लगाई गई हैं, ताकि पर्यटकों को किसी प्रकार की असुविधा न हो. सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से पर्याप्त स्ट्रीट लाइटिंग और चोरी पर नियंत्रण के लिए सीसीटीवी कैमरे आदि की व्यवस्था की गई है.