LIC Jeevan Pragati Policy : हर महीने 6 हजार रुपये जमा कर पाएं पूरे 28 लाख रुपये, बुढ़ापे में बहुत काम आएगी ये पॉलिसी

एलआईसी जीवन प्रगति पॉलिसी

एलआईसी जीवन प्रगति पॉलिसी

नई दिल्ली। भारतीय जीवन बीमा निगम देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है और हो भी क्यों ना आज भी देश के करोड़ों लोग एलआईसी की बीमा योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। एलआईसी उन Investors के लिए इनवेस्ट के कई बेहतर ऑप्शन देता है, जो प्रभावशाली और Guaranteed Return प्रदान करने वाली योजनाओं में अपना पैसा लगाना चाहते हैं। एलआईसी की जीवन प्रगति पॉलिसी (Jeevan Pragati Policy) में Investors उनकी मेहनत की कमाई को उनकी रिटायरमेंट (Retirement) या बुढ़ापे के लिए एक कोष बनाने के लिए निवेश कर सकते हैं। LIC की जीवन प्रगति पॉलिसी में निवेशकों को हर महीने निवेश करना होता है। मैच्योरिटी (Maturity) पर बंपर रिटर्न देने के अलावा, ये स्कीम इनवेस्टर्स को डेथ इंश्योरेंस बेनेफिट भी देती है। इस पॉलिसी को भारतीय बीमा रेगुलेटर और विकास प्राधिकरण (IRDAI) की तरफ से अप्रूव किया गया है।

200 रुपये प्रतिदिन बचाने की जरूरत

एलआईसी की जीवन प्रगति पॉलिसी में, जो एक नॉन-लिंक्ड (Non-Linked), सेविंग्स कम प्रोटेक्शन एंडोमेंट (Savings cum Protection Endowment) योजना है, इनवेस्टर्स को मैच्योरिटी के समय 28 लाख रुपए प्राप्त करने के लिए हर महीने लगभग 6000 रुपए का निवेश करने की जरूरत होती है। एलआईसी की इस पॉलिसी में हर महीने 6000 रुपए निवेश करने के लिए, आपको कम से कम 200 रुपए प्रति दिन बचाने की जरूरत है।

हर पांच साल में बढ़ती है बीमा राशि

एलआईसी जीवन प्रगति पॉलिसी के इनवेस्टर्स की मौत के मामले में, मौत पर बीमा अमाउंट नॉमिनी के खाते में जमा की जाती है। अगर पॉलिसी के लिए साइन अप करने के बाद पांच साल के भीतर इनवेस्टर की मौत हो जाती है, तो नॉमिनी को बेसिक सम एश्योर्ड का 100% मिलता है। बीमा राशि हर पांच साल में बढ़ जाती है और निवेश के 16वें-20वें साल के दौरान, नॉमिनी को मूल बीमा राशि का 200% मिलता है।