मनीष गुप्ता हत्याकांड: अखिलेश से बिना मिलाए मीनाक्षी को ले जाने पर सपा कार्यकर्ताओं ने दिखाई गुंडागर्दी

गोरखपुर में कानपुर के व्यापारी मनीष हत्याकांड ने अब सियासी रंग ले लिया है.वहीं सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी इनके परिजनों से मुलाकात के लिए पहुंचे.अखिलेश की आने की खबर सुनते ही सपाई भी मनीष के घर पहुंच गए. इसी बीच जब पुलिस मनीष के परिजनों को सीएम योगी से मिलवाने ले जाने लगे तो वहां सपा के लोगों ने बवाल काटना शुरु कर दिया.

पुलिस के साथ खूब नोकझोक की,साथ ही मीनीक्षी के साथ धक्कामुक्की और परिजनों को घेर लिया. सपाईओं ने कहा कि जब तक परिजन अखिलेश से नहीं मिल लेते तब तक हम इन्हें कहीं नहीं जाने देंगे. यहां तक की एक रिश्तेदार को थप्पड़ भी जड़ दिया.दरअसल बुधवार रात को उफसरों ने जानकारी दी थी कि सीएम योगी शहर आकर पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे जिसके चलते सुबह 11 बजे पुलिस अफसर पीड़ित परिवार को मिलवाने के लिए घर से पुलिस लाइन ले जा रहे थे.

तभी अखिलेश यादव के आने की जानकारी मिली को सपाइयों ने उन्हें रोक लिया और खूब नोकझोक हुई. साथ ही परिजनों के साथ धक्का -मुक्की व हाथापाई भी की गई. 

ये सब देखकर उनके रिश्तेदार लखनऊ निवासी दुर्गेश सामने आए तो लोहिया वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष विनय गुप्ता ने उनके थप्पड़ मार दिया. इसके बाद से विवाद और भी बढ़ गया.फिर पुलिस की मदद से पूरे परिवार को घर के अंदर किया और इसके बाद अखिलेश यादव ने परिवार वालों से मुलाकात की.