घाटी में ख़ौफ़ फैलाने वालों को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने बनाया तगड़ा प्लान

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को केंद्र शासित प्रदेश की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के पहले दिन जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर और संयुक्त अरब अमीरात के शारजाह के बीच पहली सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ान का उद्घाटन करेंगे। शाह श्रीनगर में सुरक्षा समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करेंगे और शनिवार को जम्मू-कश्मीर के युवा क्लबों के सदस्यों के साथ भी बातचीत करेंगे।

अमित शाह के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम

गृह मंत्री अमित शाह की केंद्रीय गृह यात्रा से पहले, श्रीनगर में कई व्यावसायिक प्रतिबंधों का आकलन किया गया है, साथ ही दोपहिया वाहनों को भी कड़ी सुरक्षा जांच के अधीन किया गया है। इसमें से एक टुकड़ा जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा के लिहाज से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कुल 50 ब्रिगेड तैनात की गई है। जम्मू और कश्मीर में हाल ही में गैर-स्थानीय लोगों की हत्याओं के बाद केंद्र शासित प्रदेश में लगभग 700 लोगों को हिरासत में लिया गया है, जबकि कुछ को पुलिस अधिकारियों द्वारा सख्त सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत रिपोर्ट किया गया था।
इस बीच, जम्मू-कश्मीर से कुल 26 बंदियों को जन सुरक्षा अधिनियम 1978 के तहत आगरा सेंट्रल जेल में स्थानांतरित किया जा रहा है। शाह के शनिवार से शुरू हो रहे यूनियन होम के तीन दिवसीय दौरे से पहले यह आदेश जारी किया गया है।