कौन हैं ये बुजुर्ग जिनसे मिलने यूपी पहुंच गए राजनाथ सिंह और तुंरत लगा लिया गले

 गुरुवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भाजपा के वरिष्ठतम सदस्य 106 साल के नारायण उर्फ भुलई भाई से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान नारायण सिंह ने कहा कि में आपसे मिलकर युवा और काफी तरोताजा महसूस कर रहा हूं. ये मिलन  भगवान कृष्ण के सुदामा से मिलने जैसा है.

दरसअल पूर्व विधायक नारायण जनसंघ के दिनों में सक्रिय राजनीति में थे,इनका 1977 से जुड़ाव रहा है.  इतना ही नहीं जब दोनों उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्य थे और उन्होंने भाजपा के विचारकों दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के साथ भी काम किया है.

नारायण सिंह राजनाथ सिंह से खुद मिलना चाहते थे लेकिन जब रक्षा मंत्री को इस बारे में पता चला तो वो खुद मिलने के लिए उत्तर प्रदेश सदन में गए और वहां पहुंचकर उनसे मुलाकात की. राजनाथ सिंह ने नारायण को शॉल उढ़ाकर सम्मानित किया साथ ही धोती -कुर्ता उपहार में दिया.


इस मुलाकात के बाद रक्षा मंत्री ने ट्टीट करते हुए लिखा कि विजयदशमी की पूर्व संध्या पर 106 वर्षीय नारायण जी ‘भुलई भाई’ से मुलाकात हुई, जो उत्तर प्रदेश में जनसंघ के विधायक थे और वर्तमान में देश में पार्टी के सबसे वरिष्ठ सदस्य हैं. उनकी सादगी बहुत ही प्रेरक है. इनसे मुलाकाक का सुखद अनुभव रहा, मैं मां दुर्गा से उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं.

जानकारी के लिए बता दें कि भुलई भाई यूपी के कुशीनगर जिले के कप्तानगंज तहसील के पगार छपरा गांव के रहने वाले वाले हैं. उन्होंने 1974 से 1977 और 1977 से 1980 तक विधायक के रूप में काम किया.भुलई भाई दो बार विधायक भी रह चुके हैं. इसके साथ ही वे इमरजेंसी के दौरान वो कई महीनों तक जेल में भी रहें थे.