कहीं आपके स्मार्टफोन में तो नहीं है वायरस, ऐसे लगाएं पता

आज के नए दौर में स्मार्टफोन का इस्तेमाल बहुत ज्यादा बढ गया है वहीं इसके जरिए हैकिंग और डाटा चोरी की घटनाएं भी सामने आ रही है. लोग तरह-तरह के मोबाइल ऐप का इस्तेमाल करके फोन से डाटा चोरी कर रहे हैं.ऐसे में आप आप सोच रहे होंगे कि फोन में आखिर वायरस की पहचान कैसे की जाएं. जानकारी देते हुए बता दें कि यदि आपका फोन बहुत ज्यादा हीट कर रहा है या स्लों चल रहा है तो इसमें वायरस हो सकता है. इसके चलते आज हम आपको वायरस को पहचान करने के तरीकें बताएंगे साथ ही इसे फोन से डिलीट भी कर पाएंगे.

इन संकतों से पता चलता है आपके फोन में वायरस है या नहीं

यदि आपका फोन बहुत ज्यादा गर्म हो रहा है तो समझ लोना चाहिए आपके फोन में वायरस बैठा हुआ है.

यदि फोन का डाटा जल्दी खत्म हो रहा या फिर फोन का बिल ज्यादा आया है तो आपका फोन हैक हो चुका है.

यदि बार-बार फोन के नोटिफिकेशन आ रहे हैं तो इसका मतलब है फोन में मैलवेयर वाला ऐप है

यदि बार बार स्पैम के मैसेज आ रहे हैं तो इसका सीधा-सीधा मतलब है कि आपका फोन हैकर्स के हाथ में है.

अगर आपके फोन पर बार-बार पैसे कमाने के लिए मैसेज आते हैं, कॉल्स आते हैं तो भी आपके फोन में वायरस है.

बार बार फोन में विज्ञापन आते हैं या फिर बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है तो भी आपका फोन वायरस की चपेट में है.

दरअसल यदि आपके फोन में वायरस घुसकर बैठा हुआ है इसके लिए आप ध्यान रखें कि हमेशा वेरिफाइड ऐप ही डाउनलोड करे और गल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर से डाउनलोड करें.साथ ही ध्यान रखें कि ऐप अपने फोन में लिए क्या-क्या परमिशन मांग रहा है.यदि कोई भी कन्फ्यूजन हो तो ऐप को वो परमिशन ना दें.इसके साथ ही एक अच्छा भरोसेमंद ऐंटी-वायरस रखें जो कि समय समय पर फोन को स्कैन करता रहें.