पीएम मोदी ने लॉन्च किया ‘गति शक्ति राष्ट्रीय मिशन’, जानिए इसका मकसद और आपकी आमदनी पर कैसा होगा इसका असर

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री गाति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान की शुरूआत कर दी है और इस शुरूआत से करीब 100 लाख करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के विकास को गति मिलेगी. साथ ही रोजगार के अवसर भी प्राप्त हो सकेंगे. बता दें कि यह रेल और सड़क सहित 16 मंत्रालयों को जोड़ने वाला एक डिजिटल मंच है.


बात करें इस राष्ट्रीय मास्टर प्लान की तो इसके तहत प्रधानमंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ-साथ एयरपोर्ट, नई सड़कों और रेल योजनाओं सहित यातायात की व्यवस्था को दुरूस्त करना है. बता दें कि इस डिजिटल मंच की मदद से विकास कार्यों को स्पीड देने की कोशिश होगी. इससे उद्योगों की कार्य क्षमता बढ़ाने में मदद होगी, स्थानीय विनिर्माताओं को भी बढ़ावा मिलेगा.


बात करें इस योजना के मकसद की तो इस योजना का मकसद बुनियादी ढांचा संपर्क परियोजनाओं की एकीकृत योजना बनाना और समन्वित कार्यान्वयन को बढ़ावा देना है. सूत्रों के मुताबिक, एक अधिकारी ने कहा कि 16 मंत्रालयों और विभागों ने उन सभी परियोजनाओं को जीआईएस मोड (GIS Mode) में डाल दिया है, जिन्हें साल 2024-25 तक पूरा किया जाना है. उन्होंने बताया, ‘गति शक्ति हमारे देश के लिए एक राष्ट्रीय अवसंरचना मास्टर प्लान होगा, जो समग्र बुनियादी ढांचे की नींव रखेगा.’