खुशखबरी: चारधाम यात्रा से हटी बंदिशें, आराम से होंगे दर्शन लेकिन करना होगा ये एक काम

उत्तराखंड हाईकोर्ट ने चार धाम में यात्रियों के निर्धारित संख्या से अधिक को जाने व दर्शन करने पर लगी रोक को हटा दिया है जिससे अब श्रद्धालु बिना रोकटोक चार धाम दर्शन के लिए जा सकेंगे.

मिली जानकारी के मुताबिक, उत्तराखंड हाई कोर्ट ने चारधाम यात्रा के श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाए जाने के मामले पर मंगलवार को सुनवाई की. इसके अलावा कहा कि, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी होगा.

सूत्रों के मुताबिक, मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति आरएस चौहान और न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खंडपीठ में सुनवाई के दौरान महाधिवक्ता एसएन बाबुलकर और मुख्य स्थाई अधिवक्ता चंद्रशेखर रावत ने कोविड को लेकर कहा कि, चारधाम यात्रा करने के लिए कोविड को ध्यान में रखते हुए कोर्ट ने श्रद्धालुओं की संख्या निर्धारित कर दी थी लेकिन इस समय कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट देखी जा रही है इसलिए चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की निर्धारित संख्या में लगी रोक को हटाया जा रहा है.

वहीं, कोर्ट के सम्मुख में धराधाम यात्रा को लेकर कहा गया है कि, धराधाम यात्रा समाप्त होने में करीब 40 दिन से कम का समय बचा हुआ है, इसलिए जितने भी श्रद्धालु आ रहें है सबको दर्शन करने की अनुमति दी जाएं. बताते चलें कि सरकार की ओर से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए कहा गया है.