ऑस्कर अवार्ड्स के लिए नहीं भेजी गई फिल्म सरदार उधम सिंह, यह है इसके पीछे की वजह

बॉलीवुड एक्टर विक्की कौशल (Vicky Kaushal) स्टारर फिल्म 'सरदार उधम सिंह' (Sardar Udham) को खूब तारीफ मिली है। सभी ने इस फिल्म में विक्की की एक्टिंग और इसकी कहानी की खूब तारीफ की है। इसके बावजूद फिल्म को भारत की ओर से ऑस्कर अवार्ड्स ( 94th Oscar Awards) के लिए नामांकित नहीं किया गया है। लिस्ट भेजे जाने के कई दिनों बाद जूरी मेंमबर्स ने बताया है कि इसे ऑस्कर के लिए क्यों नहीं भेजा है।

जूरी मेंमबर्स ने बताई कई वजह

'सरदार उधम सिंह' के ऑस्कर में न भेजे जाने के पीछे कारण बताते हुए इंद्रदीप दासगुप्ता (Indraadip Dasgupta) ने एक मीडिया से कहा,"सरदार उधम सिंह फिल्म थोड़ी लंबी है और जलियांवाला बाग की घटना को बयान करती है। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक गुमनाम नायक पर एक भव्य फिल्म बनाने का यह एक ईमानदार प्रयास है। लेकिन इस प्रक्रिया में, यह फिर से अंग्रेजों के प्रति हमारी नफरत को प्रदर्शित करता है। ग्लोबल के इस युग में, इस नफरत को थामे रहना उचित नहीं है।" उन्होंने कहा कि फिल्म का निर्माण अंतरराष्ट्रीय मानकों पर खरा उतरता है और फिल्म की सिनेमैटोग्राफी की भी प्रशंसा की।

इसके अलावा जूरी के एक अन्य सदस्य, सुमित बसु (Sumit Basu) ने भी कहा, "कई लोगों ने सरदार उधम को इसकी सिनेमाई गुणवत्ता के लिए पसंद किया है, जिसमें कैमरावर्क, संपादन, साउंड डिजाइन शामिल है। मुझे लगा कि फिल्म की अवधि एक मुद्दा है। इसका क्लाइमेक्स काफी डिलेड है। जलियांवाला बाग हत्याकांड के शहीदों के असली दर्द को महसूस करने के लिए दर्शकों को बहुत समय लगता है।" आपको बता दें कि शूजीत सरकार की फिल्म सरदार उधम सिंह में स्वतंत्रता सेनानी सरदार उधम सिंह की कहानी को बताती है। उधम सिंह ने जलियांवाला बाग हत्याकांड का बदला लेने के लिए माइकल ओ'डायर की हत्या कर दी थी। उधम ने लंदन के कैक्सटन हॉल में ओ'डायर को गोली मार दी थी।

ये करते हैं आस्कर के लिए फिल्मों का चुनाव

गौरतलब है कि ऑस्कर अवार्ड्स के लिए फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया (Federation Of India) भारत की ओर से फिल्मों का चयन करती है। इस साल इस 15 सदस्यीय जूरी का नेतृत्व फिल्ममेकर शाजी एन करुण (Shaji N Karun) कर रहे थे। फिल्म निर्माता विनोथराज पीएस (Vinothraj PS) द्वारा निर्देशित तमिल ड्रामा कूझंगल (Koozhangal) को 94वें अकादमी पुरस्कारों के लिए भारत की ओर से ऑफिशियल एंट्री के रूप में घोषित किया गया है। इस फिल्म में न्यूकमर चेल्लापंडी (Chellapandi) और करुथथदैयां (Karuththadaiyaan) नजर आए थे।