Aryan Khan Case: बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश के बाद सेलेब्स ने दिए अपने रिएक्शंस, राम गोपाल वर्मा ने मीडिया से पूछा ये सवाल

आर्यन खान (इंस्टाग्राम फोटो)

आर्यन खान (इंस्टाग्राम फोटो)

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस (Mumbai Cruise Drugs Case) में हिरासत में लिए गए बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने निर्दोष बताया है। शनिवार को उच्च न्यायालय की ओर से जारी किए गए बेल ऑर्डर सामने आया है। जिसमें कहा गया था कि मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में किसी भी तरह के कोई साजिश के सबूत नहीं मिले हैं। बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा कि आर्यन खान (Aryan Khan) और उनके दोस्तों मुनमुन धमेचा (Munmun Dhamecha) और अरबाज मरचेंट (Arbaaz Merchant) के बीच ऐसी कोई आपत्तिजनक बातचीत की गई जिससे ये पता चले कि ये तीनों ड्रग्स को लेकर के कोई बड़ी साजिश रच रहे थे।

शनिवार को बॉम्बे हाई कोर्ट के द्वारा जारी किए गए ऑर्डर के बाद आज रविवार को सोशल मीडिया (Social Media) प्लेटफॉर्म ट्विटर पर आर्यन खान ट्रेंड करने लगा है। इसके साथ ही बॉलीवुड के कई सारे सेलेब्स ने इस मुद्दे पर अपने रिएक्शंस दिए हैं। अब राम गोपाल वर्मा, संजय गुप्ता और शेखर गुप्ता जैसे कई मशहूर लोगों ने इस मामलें में अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। जहां शेखर गुप्ता ने लिखा, बॉम्बे हाईकोर्ट ने कड़े आदेश में कहा, "कोई साजिश नहीं, कोई ड्रग्स नहीं मिली, कोई मेडिकल टेस्ट नहीं हुआ। फिर भी आर्यन खान और अन्य ने लगभग एक महीना हिरासत में बिताया। अफसोस की बात है कि स्वतंत्रता के अन्यायपूर्ण नुकसान की भरपाई कभी नहीं की जा सकती। यह तब तक चलता रहेगा जब तक कानूनों का दुरुपयोग करने वालों को सख्ती से जवाबदेह नहीं ठहराया जाता।"

वहीं राम गोपाल वर्मा ने ट्वीट में कहा, अब जब बॉम्बे हाई कोर्ट ने इस बात को स्पष्ट कर दिया है कि आर्यन खान को 30 दिनों बेवजह बंद कर दिया गया था। सवाल यह है कि जिस मीडिया ने पूरे 30 दिनों तक लगातार उसका शोषण किया, वह अब अगले 30 दिनों के लिए एनसीबी की गलती को कवर करेगा। मेरा अनुमान है कि वे इसे 1 दिन से आगे नहीं करेंगे। बता दें कि आर्यन खान को एनसीबी ने 3 अक्टूबर को आर्यन खान, मुनमुन धमेचा और अरबाज मर्चेंट समेत 5 अन्य को एक क्रूज पर चल रही रेव पार्टी से गिरफ्तार किया था। इसके बाद 28 अक्टूबर को बॉम्बे हाईकोर्ट ने इन तीनों को जमानत दे दी थी।