आखिर क्यों मनजिंदर सिंह सिरसा ने रखी कंगना रनौत को मेंटल हॉस्पिटल या जेल भेजने की मांग, पढ़िए क्या है पूरा मामला

कंगना रनौत (इंस्टाग्राम फोटो)

कंगना रनौत (इंस्टाग्राम फोटो)

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अपने बड़बोलेपन के कारण कई बार मुसीबतों में फंस जाती हैं। हाल ही में 'धाकड़' (Dhaakad) एक्ट्रेस ने खालिस्तानियों को लेकर के अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट (Instagram Account) से एक स्टोरी शेयर की थी। जिसमें एक्ट्रेस ने न सिर्फ खालिस्तानियो को टेररिस्ट बताते हुए उनका मिलान किसानों के साथ किया बल्कि उनके लिए आपत्तिजनक भाषा का भी प्रयोग किया। जिस पर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (Delhi Sikh Gurudwara Management Committee) ने इस आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर कंगना के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

एक्ट्रेस पर लगे हैं ये आरोप

सिख कमेटी (DSGMC) का कहना है कि सोशल मीडिया (Socila Media) पर किए गए अपने पोस्ट में कंगना ने जानबूझकर किसान आंदोलन को खालिस्तानी आंदोलन बताया है। बयान में 'थलाइवी' (Thalaivii) एक्ट्रेस पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने सिख समुदाय को खालिस्तानी आतंकवादी करार दिया, और 1984 और इससे पहले हुए नरसंहार को याद करते हुए (दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री) इंदिरा गांधी की ओर से योजनाबद्ध और सोचे-समझे कदम के रूप में बताया। शिकायत में आगे कहा गया है कि कंगना ने अपनी इंस्टा स्टोरी में सिख समुदाय के खिलाफ अपमानजनक और आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया है।

मनजिंदर सिंह ने की सख्त कार्रवाई की मांग

वहीं शिरोमणी अकाली दल (Shiromani Akali Dal) के लीडर मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने एक्ट्रेस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा है, "कंगना का बयान बहुत घटिया मानसिकता को उजागर करता है। यह कहना कि खालिस्तानी आतंकवादियों के कारण तीन कृषि कानूनों को निरस्त किया गया, किसानों का अपमान है। वह नफरत की फैक्ट्री हैं। हम इंस्टाग्राम पर उनकी घृणित सामग्री के लिए सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग करते हैं। उनकी सुरक्षा और पदम श्री को तुरंत वापस लिया जाना चाहिए। उन्हें या तो मेंटल हॉस्पिटल या फिर जेल में भेज दिया जाना चाहिए।"

कंगना ने इंस्टाग्राम पर शेयर की थी ये स्टोरी


बता दें कि शुक्रवार को केंद्र सरकार ने किसान बिल को वापस लेने का ऐलान किया था। जिसके बाद सरकार के इस कदम से समर्थक काफी नाराज थे, इन्हीं में से एक कंगना रनौत है। इसी नाराजगी के चलते एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम से एक स्टोरी शेयर की थी। इस स्टोरी में एक्ट्रेस ने लिखा था, "खालिस्तानी आतंकवादी आज सरकार का हाथ मरोड़ सकते हैं... लेकिन एक महिला को नहीं भूलना चाहिए... एकमात्र महिला प्रधानमंत्री ने इन को अपनी जूती के नीचे क्रश किया था। एक्ट्रेस ने आगे लिखा, "इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन्होंने देश को कितनी पीड़ा क्यों न दी हो। उसने अपनी जान की कीमत पर उन्हें मच्छरों की तरह कुचल दिया... लेकिन देश के टुकड़े नहीं होने दिए...उनकी मृत्यु के दशकों बाद आज भी उनके नाम से कांपते हैं ये... इन्हें वैसा ही गुरु चाहिए।"